फर्जी ई-टिकटिंग से रेलवे को लाखों का चूना लगाने वाले तीन हिरासत में

आगरा। अवैध रूप से आरक्षित टिकटों का कारोबार कर रेलवे को लाखों रुपये का चूना लगा रहे कुछ लोगो को रेलवे पुलिस ने हिरासत में लिया है। रेलवे पुलिस ने इन लोगो से अवैध रूप से ई टिकट बनाने के उपकरण भी बरामद और नकली टिकट भी बरामद की है।

इस पूरे मामले में तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है जिसका खुलासा आरपीएफ कमांडेंट ने एक प्रेसवार्ता के दौरान किया।
प्रेसवार्ता के दौरान आरपीएफ कमांडेंट ने बताया कि काफी समय से नकली ई टिकट बनाकर बेचने की सूचना मिल रही थी और कई यात्रियों पर इस तरह की टिकट भी मिली थी जिसके बाद से उच्च अधिकारियों से ऐसे लोगो पर कार्यवाही के निर्देश मिले थे जिस पर कार्यवाही को अंजाम दिया गया।

आरपीएफ कमांडेंट ने बताया कि इन शतिरो पर शिकंजा कसने के लिए आरपीएफ कैंट इंस्पेक्टर वीपी सिंह के नेतृव में विशेष टीम का गठन किया गया और शमशाबाद थाना क्षेत्र के तीन स्थानों पर रेड की गई। इस कार्यवाही में आरपीएफ को सफलता भी हाथ लगी। छापामार टीम ने तीन लोगों को हिरासत में लिया।

आरपीएफ की इस विशेष टीम ने गुप्ता सेवा केंद्र, प्राची कम्युनिकेशन, और रोहित मोबाइल रिपेयर के स्वामी को गिरफ्तार किया। जिनके पास से कुल 1277 अवैध आरक्षित टिकट मिली है जिसमे भविष्य की टिकट भी शामिल है जिनकी कुल रकम कुल 19 लाख से ऊपर ली है। इसके साथ ही तीन लैपटॉप और तीन प्रिंटर भी बरामद किए है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*