भीमनगरी का मंच बना राजनीति का अखाड़ा, आयोजन समिति के हुए दो फाड़

आगरा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का विवादों से पुराना नाता रहा है इसलिए तो वह किसी न किसी कारण से विवादों में आकर चर्चा का विषय बन जाते हैं। इस बार अरविंद केजरीवाल एक आयोजन को लेकर बड़ी समस्या बन गए हैं।

आपको बता दें कि उत्तर मध्य भारत का सबसे बड़ा आयोजन भीम नगरी आगरा में सजती है। 14 अप्रैल से शुरू होने वाले तीन दिवसीय आयोजन के लिए क्षेत्रीय भीम नगरी आयोजन कमेटी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया है। अरविंद केजरीवाल को आमंत्रित किए जाने के बाद से ही इस सामाजिक आयोजन में राजनीति शुरु हो गई है।

अरविंद केजरीवाल के नाम पर ही क्षेत्रीय भीम नगरी आयोजन कमेटी में दो गुट बन गए हैं। एक गुट का कहना है कि अरविंद केजरीवाल दलित विरोधी हैं और दलितों के इस भव्य आयोजन में उन्हें आमंत्रित करना गलत होगा। इतना ही नहीं इस गुट ने तो अरविंद केजरीवाल को इस मंच पर ना चढ़ने देने का ऐलान तक कर दिया है तो दूसरा गुट इस पूरे मामले को संभालते हुए कह रहा है कि भीम नगरी एक सामाजिक मंच है इस मंच पर किसी को भी बुलाया जा सकता है।

कमेटी के पदाधिकारियों का कहना है कि कुछ लोग जानबूझकर इसे राजनीतिक मंच बनाने का प्रयास कर रहे हैं। जो लोग विरोध कर रहे हैं वह भाजपा से संबंध रखते हैं। ऐसे में अरविंद केजरीवाल का आना उन्हें नागवार गुजर रहा है। फिलहाल कुछ भी हो लेकिन भीम नगरी का आयोजन इस बार राजनीति का अखाड़ा का मंच बनता चला जा रहा है

About admin 5877 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*