शहीद के अंतिम संस्कार पर मंत्री को झेलना पड़ा विरोध, शहीद के परिवार ने रखी ये मांग

हापुड़। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के हमले में हापुड़ का बेटा शोभित शर्मा शहीद हो गया। बताया जा रहा है कि छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में पेट्रोलिंग के दौरान जवानों पर नक्सलियों ने हमला कर दिया था जिसमें नौ जवान शहीद हो गए थे। उसी में हापुड का बेटा शोभित शर्मा भी शामिल था।

शोभित शर्मा के पार्थिव शरीर के हापुड़ पहुंचते ही शहीद के अंतिम दर्शन के लिए जन सैलाब उमड़पड़ा। जहां एक तरफ लोगों की आंखें नम थी तो देश के लिए जान न्यौछावर करने वाले शोभित शर्मा पर गर्व भी था। परिवार के कहने पर शहीद  को उनके पैतृक गांव गोहरा मुदाफरा में उनके बेटे ने मुखाग्नि दी। शहीद का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया गया  जिसमें बीजेपी मंत्री सत्यदेव पचौरी, CRPF के एडीजी,  सीआरपीएफ की टुकड़ी सहित जिले के आला अधिकारी मौजूद रहे।

वहीं मंत्री सत्यदेव पचौरी को लोगों के विरोध का  सामना करना पड़ा। मंत्री सत्यदेव पर लोगों ने आरोप लगाया कि मंत्री जी घंटों पहले हापुड आ गए थे मगर शहीद के घर ना जाकर गैस्ट हाउस में चाय का लुफ्त उठाने के साथ साथ पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ व्यस्त थे।

अधिकारियों के समझाने पर लोग शांत हुए। मंत्री ने शहीद के परिवार को 25 लाख की सहायता राशि का चेक दिया जिसमें 20 लाख शहीद की पत्नी 5 लाख शहीद की माता को दिए।

शहीद के परिवार का कहना है कि जिस तरह मध्य प्रदेश सरकार शहीदों के परिवारों को एक करोड़ की धनराशि दी गई है। उसी प्रकार यहां भी एक करोड़ की धनराशि दी जाए जिस पर मंत्री ने मुख्यमंत्री तक यह बात पहुंचाने की बात कही।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*