घर बाहर से था बंद, अंदर हो गया ये काम

आगरा। पुलिस प्रशासन चोरों पर कितनी भी सख्त कार्रवाई कर ले लेकिन अज्ञात चोरों पर इस सख्त कार्रवाई का कोई भी असर दिखाई नहीं दे रहा है। आलम यह है कि अज्ञात चोर चोरी की वारदातों को लगातार अंजाम देकर पुलिस की कार्य प्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगा रहे हैं। ऐसा ही कुछ थाना जगदीशपुरा की गोविंद वाटिका में देखने को मिला।

गोविंद वाटिका में रेलवे कर्मचारी जय प्रकाश शर्मा रहते हैं जो रेलवे में बतौर गार्ड पद पर तैनात हैं। इस बार अज्ञात चोरों ने रेलवे गार्ड के सूने घर को अपना निशाना बनाया। अज्ञात चोरों ने सूने घर में बेखौफ होकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया और लाखों रुपए के साथ-साथ करीब 7 तोले सोना और चांदी के आभूषण लेकर फरार हो गए।

घर में चोरी की वारदात का जानकारी रेलवे गार्ड को नौकरी से लौटने के दौरान हुई। घर में चोरी की वारदात की सूचना रेलवे गार्ड ने क्षेत्रीय पुलिस को दे दी है। मौके पर पहुंची क्षेत्रीय पुलिस ने घटना की जांच पड़ताल कर कार्यवाही शुरु कर दी है।

रेलवे गार्ड जय प्रकाश शर्मा ने बताया कि 18 और 19 को ड्यूटी पर थे और इसी बीच परिवारीजन गांव चले गए। घर को सूना पाकर अज्ञात चोरों ने इस वारदात को अंजाम दे दिया। घर लौटने पर पीड़ित को घर में हुई वारदात का पता चला। पीड़ित जय प्रकाश शर्मा इस बात को लेकर भी हैरान थे कि बाहर से जैसा ताला उन्होंने लगाया था वैसे ही लगा हुआ था लेकिन घर के अंदर के सारे ताले टूटे हुए थे। यह बात पीड़ित के साथ-साथ क्षेत्रीय पुलिस को भी अचंभा कर रही है।

फिलहाल क्षेत्रीय पुलिस सारे पहलुओं को ध्यान में रखकर अपनी कार्रवाई को अंजाम दे रही है तो वहीं पीड़ित ने भी पुलिस अज्ञात चोरों को जल्द से जल्द पकड़ने की अपील की है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*