स्थानीय

किसान की आंखों के सामने ही बन गया बर्बादी का मंजर, चाह कर भी कुछ न कर सका

आगरा। किसान खून पसीने से सींच कर अपनी गेंहू की फसल को तैयार कर रहे हैं लेकिन उन पर प्राकृर्तिक आपदा की मार पड़ रही है। इसलिए तो उनकी आंखों के सामने ही खड़ी फसल […]