कॉलेज में छात्र ने फायरिंग कर फैलाई दहशत, एक छात्रा बची बाल-बाल

आगरा। आगरा कॉलेज आगरा में छात्रों ने गोली चलाकर हड़कंप मचा दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक पूर्व छात्र के गुट ने रसायन विज्ञान विभाग के सामने मैदान में 4-5 फायर किये। गोली की आवाज सुनकर छात्र-छात्राएं घबरा कर भागने लगे तो कॉलेज का स्टाफ अपने कमरे से बाहर निकल आ गये। इस फायरिंग में एक छात्रा बाल-बाल बची है।

आगरा कॉलेज के अंदर हथियारों के साथ छात्रों का प्रवेश कॉलेज प्रबंधक समिति की सुरक्षा व्यवस्था पर बड़े सवाल खड़े कर रहा है। उपद्रवी छात्रों ने 12 बोर के कट्टे से कई फायर किए गए थे जिसके खाली कारतूस मैदान से बरामद किए गए हैं। फायरिंग के बाद मौके पर पुलिस और कॉलेज के स्टाफ पहुंचे लेकिन उनके पहुंचने से पहले सभी उपद्रवी छात्र फरार हो गए।

जानकारों के मुताबिक पूर्व छात्र नवनीत यादव के गुट ने दबदबा बनाने के लिए LLB सेकेंड ईयर मयंक चौधरी और बीएससी थर्ड ईयर के छात्र शाहरुख ने बिलाल अहमद के साथ मिलकर खुले मैदान में ये हवाई फायरिंग की है। इससे पहले भी ये गुट कॉलेज़ में मारपीट और फायरिंग जैसी घटनाओं को अंजाम दे चुका है।

इस तरह की घटनाएं कॉलेज सुरक्षा प्रबंधक समिति की लापरवाही उजागर करती हैं क्योंकि पहले भी आगरा कॉलेज में छात्र गुटों के बीच आपसी संघर्ष और फायरिंग के मामले सामने आ चुके हैं। अब इन उपद्रवी छात्रों की हिम्मत इतनी बढ़ गई है कि खुलेआम मैदान के बीच में उन्होंने फायरिंग कर दहशत फैला दी।

इस घटना से सबक लेते हुए अगर आगरा कॉलेज आगरा ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं किए तो भविष्य में कोई अप्रिय घटना हो सकती है और कोई भी छात्र या छात्रा इस अप्रिय घटना का शिकार हो सकता है।

बहरहाल आगरा कॉलेज के प्रिन्सिपल डॉक्टर ए. के. गुप्ता ने उपद्रवी छात्रों के खिलाफ तहरीर दी है और उन सभी छात्रों को ब्लैक लिस्ट में डालने की बात कही है। वहीं कॉलेज के कर्मचारियों का कहना है कि इस तरीके की गतिविधियाँ नहीं रोकी गई तो वे कॉलेज परिसर में ही धरना देंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*