छात्र पर डंडो का कहर, शिक्षक की क्रूरता, देखें वीडियो

आगरा। छठवीं क्लास के छात्र पर शिक्षक का कहर जमकर टूटा है। शरीर पर डंडों के निशान आरोपी शिक्षक की बर्बरता को साफ दर्शा रहे हैं। मामला सदर थाना क्षेत्र के देवरी रोड का है। देवरी रोड पर पंचशील इंटर कॉलेज स्थित है ।

पीड़ित छात्र और उसके परिजनों की अगर बात मानी जाए तो छठवीं क्लास में पढ़ने वाला पीड़ित छात्र निखिल रोजाना की तरह स्कूल गया। स्कूल में शिक्षक से बिना पूछताछ किए उसने पानी की बोतल से पानी पिया। बस शायद यही अपराध हुआ कि उसके शरीर पर शिक्षक का कहर टूटा। जमकर डंडों की बरसात हुई। बेरहमी से पीटा गया। यहां तक कि पीड़ित छात्र ने कक्षा में ही बेहोश हो गया। घटना की जानकारी पीड़ित छात्र ने परिजनों को दी।

आक्रोशित परिजनों ने एसएसपी आगरा को ऑनलाइन शिकायत की। पीड़ित छात्र का मेडिकल करा लिया गया और परिजन आरोपी शिक्षक के खिलाफ कार्यवाही की मांग कर रहे हैं।

आरोपी शिक्षक का नाम दिलीप कुमार सैनी बताया गया है। हालांकि इस मामले में पुलिस ने मेडिकल जरूर करा लिया है मगर शिक्षक के खिलाफ कोई वैधानिक कार्यवाही नहीं हुई है। जिसको लेकर परिजनों में तीखा आक्रोश है। इलाकाई पुलिस पर आरोप लगाते हुए परिजन जिले के पुलिस कप्तान अमित पाठक से मुलाकात करेंगे और आरोपी शिक्षक दिलीप कुमार सैनी के खिलाफ कार्यवाही की मांग करेंगे।

यह कोई पहला मामला नहीं है जब एक स्कूल के शिक्षक का कहर एक छात्र पर टूटा हो। इससे पूर्व में भी तमाम घटनाएं सामने आई हैं।

पीड़ित छात्र निखिल के शरीर पर डंडो के निशान शिक्षक दिलीप कुमार सैनी की क्रूरता को साफ दर्शा रहे हैं ऐसा लग रहा है। इस लग रहा है कि मानो छात्र पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया गया हो। अब देखना होगा कि दिलीप कुमार सैनी शिक्षक पर पुलिस क्या कार्यवाही करती है।

About admin 5986 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*