श्री गुरु गोविंद सिंह जी के 351वें प्रकाश पूरब के अवसर कीर्तन

आगरा। सिक्ख समाज की केन्द्रीय संस्था श्री गुरु सिंह सभा माईथान के तत्वाधान में श्री गुरु गोविंद सिंह जी के 351वें प्रकाश पूरब के अवसर पर नगर कीर्तन का आयोजन किया गया। नगर कीर्तन की सुरुआत माईथान गुरुद्वारे से हुई इस अवसर पर भाजपा विधायक योगेन्द्र उपाध्याय अपने परिवार के साथ पहुँचे और परिवार के साथ गुरूद्वारे में मत्था टेक नगर कीर्तन की शुरुआत कराई। नगर कीर्तन के दौरान जहाँ समाज के लोगों ने पुरातन युद्ध कला का प्रदर्शन किया जिसे देखकर सभी लोग आश्चर्यचकित रहे गए तो वहीं दूसरी ओर सुलहकुल की इस नगरी को नगर कीर्तन के माध्यम से भक्ति रस से सरोबार कर दिया।

इस बार आगरा की गुरु नानक नाम लेवा संगत के अलावा अलीगढ़, मथुरा, टूण्डला, भरतपुर, फिरोजाबाद व इटावा की संगत इस नगर कीर्तन में भाग लिया। इतना ही नहीं हर बार की तरह इस बार भी गुरुद्वारा गुरु के ताल का जत्था संत बाबा प्रीतम सिंह जी की अगुवाई में निकाला जो सबसे विशाल रहा। यहाँ का संत सिपाही रणजीत अखाड़ा मुख्य आकर्षण केंद्र बना। नगर कीर्तन जिन मार्गो से गुजरा उस क्षेत्र में लोगो ने पुष्प वर्षा कर नगर कीर्तन का स्वागत किया।

संत बाबा प्रीतम सिंह जी ने बताया कि यह नगर कीर्तन श्री गुरु ग्रन्थ साहिब जी की सरपरस्ती में और पंच प्यारों की अगुवाई में निकाला गया है जिसमें समूह संगत ने बढ़चढ़ कर भाग लिया है। गुरूद्वारे के हेड ग्रंथी कुलविंदर सिंह ने बताया की श्री गुरु ग्रन्थ साहिब के स्वरुप के आगे गुरु पन्थ के दास के नौजवान जिसमे बच्चे और बच्चियां शामिल हुई और अपने गुरु के अगवानी में पुरे मार्ग पर जल से छिड़काव और पुष्प वर्षा की।

इस नगर कीर्तन में हजारो की संख्या में श्रदालुओं के साथ आगरा के 29 गुरूद्वारे के जत्थे शामिल हुए जिसमें महिलाओं का कीर्तनी जत्था भी शामिल था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*