राष्ट्रगीत वंदे मातरम पर फैशन शो करने पर आरटीआई एक्टिविस्ट ने आयोजन कर्ता के खिलाफ की शिकायत, देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की उठाई मांग

भारतीय कला और संस्कृति को बढ़ावा देने वाले ताज महोत्सव आयोजन के दौरान रास्ट्रीय गीत वंदे मातरम पर हुस्न की नुमहिश के लिए हुए फैशन शो का चारो ओर से विरोध होना सुरु हो गया है। एक तरफ जहां देश के वीर जवान आतंकी हमले में शहीद हो गए है जिनकी शहादत पर पूरे देश मे गमहीन माहौल है ऐसे समय मे ताज महोत्सव के
मुक्ताकाशीय मंच पर आई आई एफ टी ने वन्दे मातरम गीत पर फैशन शो कराकर शहर में फजिहते कर दी है।

समाजसेवी और आरटीआई एक्टिविस्ट नरेश पारस ने इस संबंध में मंडलायुक्त अनिल कुमार के साथ साथ प्रदेश के संस्कृति निदेशालय और जिले के मुखिया जिलाधिकारी को ई मेल के माध्यम से शिकायत दर्ज कराई है और मांग की है कि वन्दे मातरम गीत पर फैशन शो करने वाले और राष्ट्रगीत का अपमान करने वाले आयोजकों के विरुद्ध देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की मांग की है। इतना ही नही ताज महोत्सव आयोजन चयन समिति से भी इस संबंध में सवाल जबाब किये जाने चाहिए कि आखिरकार समिति ने ऐसे माहौल में इस तरह के आयोजन को कैसे अनुमति दे दी।

समाजसेवी और आरटीआई एक्टिविस्ट नरेश पारस का कहना था कि अभी हाल ही में हुए आतंकी हमले में देश के 44 सैनिक शहीद हुए हैं जिनमे से एक आगरा का लाल भी था इनकी शहादत में आगरा के साथ साथ देशवासी गमहीन है। इन शहीदों की चिता की आग भी ठंडी नही हो पाई की कुछ लोगो ने अपने स्वार्थ के लिए जिस रास्ट्रीय गीत से सैनिकों का मनोबल बढ़ता था उसी गीत पर गमहीन माहौल में हुस्न की नुमाईश के लिए फैशन शो करा दिया। इससे आयोजनकर्ताओं ने शहीदो की शहादत के साथ भद्दा मजाक तो किया ही है वही रास्ट्रीय गीत का भी अपमान किया गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*