Home राजनीति प्रसपा नेता नितिन कोहली का आरोप – ‘राजनीतिक दवाब के चलते नहीं खोलने दिया ऑक्सीजन सिलेंडर बैंक’

प्रसपा नेता नितिन कोहली का आरोप – ‘राजनीतिक दवाब के चलते नहीं खोलने दिया ऑक्सीजन सिलेंडर बैंक’

by admin
Prasanna leader Nitin Kohli alleges - 'Oxygen cylinder bank not allowed to open due to political pressure'

Agra. कोरोना संक्रमण के बीच आगरा में ऑक्सीजन की किल्लत किसी से छुपी नहीं है। इस किल्लत के चलते मरीजों ने दम भी तोड़ा है। आगरा में व्याप्त ऑक्सिजन की किल्लत को दूर करने के लिए कई समाजसेवी संस्थाएं और समाज सेवी आगे आ रहे हैं लेकिन आगरा में एक महत्वपूर्ण योजना राजनीति की भेंट चढ़ गई। ऑक्सीजन बैंक और एम्बुलेंस ऑन व्हील योजना राजनीति की ऐसी शिकार हुई कि इस योजना का शुभारंभ भी नहीं हो सका। इस योजना से कोरोना संक्रमित मरीजों को लाभ पहुँचना था।

आपको बताते चले कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में आगरा पुलिस आम लोगों और मरीजों की मदद को आगे आ रही है तो समाजसेवी भी हर तरह से पुलिस की मदद को तैयार है। इसी के चलते सांई सेवा संस्था और आगरा पुलिस ने मिलकर ऑक्सिजन सिलेंडर बैंक की योजना बनाई थी। इस बैंक में 60 से ज्यादा ऑक्सिजन सिलेंडर की व्यस्था की गई थी लेकिन अचानक से इस योजना को रद्द कर दिया गया जबकि इस बैंक से नो प्रॉफिट नो लॉस की तर्ज पर जरूरतमंद लोगों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जानी थी।

साईं सेवा संस्था के अध्यक्ष और प्रसपा क लोहिया वाहिनी प्रदेश अध्यक्ष नितिन कोहली ने सोशल मीडिया पर दर्द साझा करते हुए योजना को बंद होने में राजनीति होने का इशारा कर एक पोस्ट डाली थी। इस पोस्ट ने भी तूल पकड़ा। इस बारे में जब प्रसपा नेता नितिन कोहली से बात की गई तो उनका कहना था कि आईजी से लेकर पुलिस कप्तान और एसपी सिटी पूरी लगन से इस योजना को जल्द शुरू करने की तैयारी में थे, जिसका शुभारंभ रविवार को होना था लेकिन आचनाक इस योजना को रोकने के आदेश आ गए। ये योजना क्यों और किसके कहने पर रोकी गई ये वो नहीं जानते लेकिन हो सकता है कि पुलिस प्रशासन पर किसी तरह का कोई राजनैतिक दवाब रहा हो जिसके चलते इस योजना को रद्द करना पड़ा।

Prasanna leader Nitin Kohli alleges - 'Oxygen cylinder bank not allowed to open due to political pressure'

नितिन कोहली का कहना था कि पुलिस अधिकारियों की मदद से एक ऐसी एंबुलेंस तैयार गई थी जो ऑक्सीजन से लैस थी और मरीज को बैड ना मिलने की दशा में कुछ घंटे तक उसमें मरीज का उपचार किया जा सकता था। वहीँ आगरा पुलिस लाइन में ऑक्सीजन बैंक से मरीज का आधार कार्ड लाकर नो प्रॉफिट नो लॉस पर ऑक्सीजन सिलेंडर ले सकता था।

साई सेवा संस्था अध्यक्ष नितिन कोहली का कहना था कि वह खुद राजनीतिक दल से जुड़े हुए हैं तो उन्हें ऐसा ही लगता है कि इस बड़ी योजना के शुरू होने से पहले ही बंद होना इसके पीछे राजनीतिक षड्यंत्र है। हो सकता है कि कुछ लोग नहीं चाहते कि दूसरी पार्टी के नेताओं का इस समय समाजसेवी के रूप में नाम हो, नितिन कोहली ने ऐसे लोगों से अपील की है कि यह राजनीति करने का समय नहीं है। लोगों की सेवा के लिए आगे आने का समय है।

Related Articles

%d bloggers like this: