महामारी काल की मुश्किल घड़ी में मित्र देशों ने थामा भारत का हाथ, भेजी मदद

Allied hands in India's difficult time of epidemic, sent help

कोरोना के मुश्किल हालातों में कुवैत से उड़ान के जरिए 282 सिलेंडर, 60 ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर, वेंटिलेटर और अन्य चिकित्सा आपूर्ति भारत आई है।

अलावा इसके कुवैत के राजदूत ने बताया कि, “आज, एक जहाज 3 टैंक के साथ अल-शुएबा पोर्ट से भारत के लिए रवाना हुआ । हर एक टैंक की क्षमता 25 मीट्रिक टन की है, जिसमें कुल 75 मीट्रिक टन है।वहीं 1000 गैस सिलेंडर मौजूद है जिनमें से हर किसी की कैपेसिटी 40 लीटर की है।”

अब अगर इस मदद में संयुक्त राज्य अमेरिका की बात करें तो संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा पांचवी खेप में 545 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स सहायता के तौर पर भेजे गए हैं।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट करके बताया कि मदद के कंसाइनमेंट की पांचवी श्रंखला अमेरिका से आई है जिसमें 545 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स आए हैं।

बता दें यूनाइटेड स्टेट से भारतीय वायु सेना का विमान मंगलवार सुबह भारत पहुंचा जिसके माध्यम से 450 ऑक्सीजन सिलेंडर भेजे गए हैं जिनमें से हर एक की कैपेसिटी 46.6 लीटर की है।

इस दौरान MEU के प्रवक्ता से मिली जानकारी के मुताबिक यूएई ने भारत की काफी मदद की है। इस मदद में 20 एमटी लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) वाले सात आईएसओ टैंकर मुंद्रा पोर्ट पर भेजे गए हैं ।

इजरायल की ओर से भी मेडिकल इक्विपमेंट्स ऑक्सीजन जनरेटर और रेस्पिरेटर्स मदद के तौर पर भेजे गए हैं।भेजे गए पार्सल में लिखा है इजरायल के लोगों द्वारा भारत के लोगों के लिए।

About admin 6674 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।