पुलिस ने पुलिस के खिलाफ किया हत्या का मुक़दमा

आगरा। धौलपुर के सरमथुरा इलाके में भैंस चोरी के आरोपियों को पकड़ने गई पुलिस टीम ने फायरिंग की। इस फायरिंग में गांव का एक व्यक्ति मौत की नींद सो गया। इस मामले में धौलपुर पुलिस ने आगरा बसई थाना क्षेत्र बसई थाने की पुलिस टीम में शामिल 9 पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का अभियोग पंजीकृत किया है।

बसई जगनेर इलाके में 25 दिसंबर की रात को कई भैंस चोरी हो गई थी जिसमें नामजद मुकदमा दर्ज था। नामजद आरोपियों को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम में शामिल इंस्पेक्टर विवेक शर्मा, सब इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार, महिला आरक्षी प्रिया रजनी, कॉन्स्टेबल प्रदीप घनश्याम, शिवराम, उमाशंकर सहित दो पुलिसकर्मी राजस्थान पुलिस को बिना सूचना दिए सीमा में प्रवेश कर गए थे और प्रवेश के दौरान बताया जाता है कि आगरा पुलिस की गांव वालों से मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से पथराव और फायरिंग हुई। फायरिंग में रामेश्वर नाम के एक व्यक्ति को गोली लगी जिस की मौके पर मौत हो गई।

लिहाजा पुलिस टीम ने वहां से भाग कर अपनी जान बचाई। आगरा पुलिस की टीम में शामिल 9 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं जिसमें एक सिपाही उमाशंकर की हालत चिंताजनक है।

मून ब्रेकिंग से हुई SP धौलपुर राजेश कुमार की वार्ता में सामने आया है कि मृतक रामेश्वर के पिता बनय सिंह की तहरीर पर आगरा के सभी 9 पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का अभियोग पंजीकृत कर लिया है। हत्या का पंजीकृत करने के बाद अब राजस्थान पुलिस यूपी पुलिस के खिलाफ वैधानिक कार्यवाही, जांच-पड़ताल और तफ्तीश कर रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*