पंचकुंडीय गायत्री हवन व प्रज्ञा पुराण कथा का आयोजन, निकाली गयी मंगल कलश यात्रा

आगरा। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वाधान में राजपुर चुंगी, उखर्रा रोड स्थित ज्वाला नगर में पांच दिवसीय पंच कुंडीय गायत्री महायज्ञ एवं पावन प्रज्ञा पुराण कथा का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन के पहले दिन मंगल कलश यात्रा निकाली गई जिसमें 101 महिलाओं ने पीत वस्त्र और कलश धारण कर इस यात्रा में भाग लिया। इसके अलावा क्षेत्रीय स्कूल की छात्राओं ने भी इस कलश यात्रा में भाग लिया।

यह कलश यात्रा राजपुर चुंगी के सैनिक नगर, जगजीत नगर क्षेत्र में निकाली गई जिसका समापन कार्यक्रम स्थल ज्वालापुर नगर पर किया गया।

कार्यक्रम स्थल पर आयोजकों द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ देव पूजन और प्रज्ञा पुराण पूजन किया गया। पूजन के बाद शांतिकुंज हरिद्वार से आई टोली ने पावन प्रज्ञा पुराण कथा सुनाई। कथा के पहले दिन कथा वाचक जसवीर सिंह ने अखिल विश्व गायत्री परिवार के संस्थापक पंडित श्रीराम शर्मा द्वारा रचित पावन प्रज्ञा पुराण के दार्शनिक एवं महत्वपूर्ण पक्ष को श्रोताओं के सामने रखा। उन्होंने बताया कि 18 पुराणों के बाद श्री राम शर्मा आचार्य ने 19 वां पुराण लिखा जिसे प्रज्ञा पुराण कहा गया। इस पुराण में कलियुग की समस्त समस्याओं का समाधान छिपा हुआ है। आधुनिकता की दौड़ और चकाचौंध की दुनिया में इंसान खुद को खोता जा रहा है। खुद को पाने के लिए और जीवन का वास्तविक आंनद उठाने के लिए इंसान क्या करे यह सब प्रज्ञा पुराण में बताया गया है।

इस अवसर पर सुदेश अरोरा, हीरा सिंह, उमेश कुलश्रेष्ठ, द्वारिका प्रसाद, सुरेश चंद्र सक्सेना आदि लोग मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*