कांग्रेस नेता पर हमले को लेकर रोष व्याप्त, कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

आगरा। बीतीरात कार्यवाहक शहर अध्यक्ष हाजी जामिलुद्दीन पर हुए हमले को लेकर कांग्रेसियो में रोष व्याप्त है। शहर के प्रतिष्टित नेता पर हुए हमले को लेकर शहर व ज़िला कांग्रेस के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने जिला मुखयालय पर जमकर प्रदर्शन किया और इस घटना की निंदा की। इस घटना से आक्रोशित कांग्रेस नेताओं ने जिलाध्यक्ष दुष्यंत शर्मा और प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र सिंह के संयुक्त नेतृत्व में एसएसपी अमित पाठक से मुलाकात की। इस दौरान पीड़ित हाजी जामिलुद्दीन भी साथ रहे।
इस मुलाकात के दौरान कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने कांग्रेस नेता के साथ हुई घटना को एसएसपी के सामने रखा और एसएसपी अमित पाठक से इस मामले में दोषियों के खिलाफ उचित कार्यवाही की मांग को लेकर ज्ञापन भी सौपा।
इस घटना को लेकर कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार पर निसाना साधा। पीड़ित कार्यवाहक शहर अध्यक्ष हाजी ज़मील उद्दीन ने आरोप लगाया भाजपा सरकार में विपक्षी दलों के नेता सुरक्षित नहीं हैं। उन पर घर में घुसकर हमले हो रहे हैं जो भाजपा सरकार की क़ानून व्यवस्था की पोल खोल रहे हैं।

ज़िला कांग्रेस अध्यक्ष दुष्यंत शर्मा ने कहना था कि जब विपक्षी दल के महानगर अध्यक्ष पर हमला हो सकता है वो भी ज़िला मुख्यालय से 50 मीटर की दूरी पर तो आम लोग किस तरह से अपने आप को सुरक्षित मान सकते है।

प्रदेश उपाध्यक्ष श्री उपेन्द्र सिंह ने इस घटना की कड़ी निंदा की है साथ ही प्रशासन को चेतावनी दी है शीद्र ही न्यायिक जाँच कर दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ़्तार किया जाए अन्यथा शहर से देहात तक कांग्रेसी आंदोलन के लिए बाध्य होंगे जिसका ज़िम्मेदार ज़िला प्रशासन ख़ुद होगा।

इतना ही नही युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नदीम नूर ने पुलिस प्रशासन को 48 घंटे में दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की उनका कहना था कि अगर ऐसा नही हुआ तो युवा कांग्रेस जिलामुख्यालय पर धरना देने को मजबूर होंगे।

इस दौरान प्रताप सिंह बघेल, रजनीश मेहता, युवा कांग्रेस अध्यक्ष नदीम नूर, प्रदेश सचिव अदनान कुरेशी, अजय वाल्मीकि, भीष्म पाल सिंह मुखिया,अमित सिंह, सुगम शिवहरे,मो आरिफ़, ज़िला महासचिव तकसीर अहमद,शालू गौतम,यासीन सिड्डीकी,दाऊद ऐडवोकेट, यामिन ऐडवोकेट,शानू कुरेशी, आमिल सलमानी,रिज़वान कुरेशी आदि लोग उपस्तिथ रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*