खुले में शौच मुक्त अभियान में सामने आई गड़बड़ियां, 3 दिन का दिया अल्टीमेटम

आंवलखेड़ा। ग्रामीण क्षेत्र को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए भारत सरकार की ओर से विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत हर घर में शौचालय बनाये जा रहे हैं लेकिन भारत सरकार की यह महत्वपूर्ण योजना भी भ्रस्टाचार की भेंट चढ़ती नजर आ रही है। स्वच्छ्ता अभियान के तहत ब्लॉक खंदौली में बनाये जा रहे शौचालय की स्थिति जानने के लिए बीडीओ तूलिका श्रीवास्तव अपनी टीम के साथ उस्मानपुर गांव पहुँची। इस निरीक्षण के दौरान बीडीओ को शौचालय निर्माण में काफी गड़बड़ियां मिली जिन्हें दुरुस्त करने के निर्देश बीडीओ तूलिका श्रीवास्तव ने दिए।

शौचालय निर्माण में हो रहे भ्रष्टाचार की जांच को लेकर बीडीओ तूलिका कपूर, एडीओ पंचायत और अधिनिस्त अधिकारियों के साथ सुबह 6 बजे ही उस्मानपुर गाँव पहुँच गयी और पूरे गांव का निरीक्षण किया।

निरीक्षण में सामने आया कि उस्मानपुर गांव में 126 शौचालय बनाने के लिए प्रथम क़िस्त जारी हो चुकी है फिर भी लाभार्थियों ने शौचालयों का निर्माण नहीं कराया है। इसमें लाभार्थी के साथ साथ संबंधित विभाग के लोगों भी शामिल है।

खंड विकास अधिकारी तुलिका श्रीवास्तव लाभार्थियों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 3 दिन के अंदर शौचालय निर्माण नहीं कराया तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान सख्त लहजे में अधिकारियों ने कहा कि स्वच्छता अभियान के तहत जिन लाभार्थियों को शौचालय निर्माण की पहली किश्त प्राप्त हो गयी है वे लाभार्थी तीन दिन के अंदर शौचालय बनाने का कार्य शुरू कर दें। यदि लाभार्थी ऐसा नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ संबंधित थाने में मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

इस टीम में खण्ड विकास अधिकारी तुलिका श्रीवास्तव, एडीओ पंचायत राहुल उपाध्याय, सचिव ब्रजमोहन, सीएल टीस टीम, चैम्पियन, ग्राम प्रधान, पीआरडी के जवान, मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*