मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या, सनसनी

आगरा। देश की आधी आबादी कही जाने वाली ताजनगरी आगरा में मासूम बच्चियों की इज्जत लगातार तार-तार हो रही है। जहां एक तरफ शुक्रवार की शाम को एत्माद्दौला थाना क्षेत्र में 6 वर्ष की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ तो महज 12 घंटे के अंदर एक वहशी दरिंदे हरीपर्वत थाना क्षेत्र के इलाके में 8 साल की मासूम बच्ची की दुष्कर्म के बाद उसे मौत की नींद सुला दिया गया। भले ही एत्माद्दौला पुलिस को दुष्कर्मी की गिरफ्तारी के बाद सफलता मिली हो मगर हरीपर्वत पुलिस के लिए ये एक बड़ी चुनौती है।

आगरा के महात्मा गांधी मार्ग यानी सबसे व्यस्ततम सड़क पर मंदिर के ठीक बराबर से आगरा कॉलेज मैदान में 8 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी का घिनौना खेल खेला जाता है और फिर आरोपी मासूम को मौत की नींद सुला कर फरार हो जाता है और पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी है।

अब आपको पूरा घटनाक्रम बताते हैं। हरीपर्वत थाना क्षेत्र के सेंट जोन्स चौराहे पर कबाड़ बीनने वाला मासूम बच्ची का पिता रमेश अपने परिवार के साथ रहता है। घटना बीती रात की है। जब सड़क किनारे फुटपाथ पर रहने वाले रमेश की 8 साल की मासूम बच्ची लक्ष्मी अचानक बीती रात को लापता हो गई और सुबह लक्ष्मी का शव लहूलुहान अवस्था में आगरा कॉलेज मैदान में मिला। शव को देखकर साफ अंदाजा लगाया जा रहा था कि बहशी दरिंदे ने मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी का खेल खेलने के बाद उसे मौत की नींद सुला दिया।

घटना की जानकारी होते ही हरीपर्वत पुलिस के अलावा एएसपी रवीना त्यागी भी मौके पर पहुंची। मासूम के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है तो वहीं मृतका के पिता रमेश ने रवि नाम के युवक पर दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाया है। इस घटना के बाद आरोपी फरार है और पुलिस को पीएम रिपोर्ट आने का इंतजार है।

पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि मासूम के साथ दरिंदगी हुई या नहीं हुई मगर प्राथमिक तौर पर बच्ची के साथ दरिंदगी से इनकार नहीं किया जा सकता है। पुलिस ने मृतका के परिजनों की तहरीर पर अभियोग पंजीकृत कर लिया है और आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*