ताजमहल पर मिलेंगी अब दो तरह की टिकट, जानिये कब से…

आगरा। मोहब्बत की निशानी ताजमहल का दीदार करने के लिए आगरा आने वाले देशी पर्यटकों को मुख्य गुंबद तक पहुंचने और शाहजहां मुमताज की कब्र को निहारने के लिए पहले से ज्यादा जेब ढीली करनी पड़ेगी। ताजमहल पर पर्यटकों के बढ़ते दबाव को देखते हुए संस्कृति मंत्रालय ने ताजमहल के प्रवेश टिकट में अप्रत्याशित रूप से 7 गुना बढ़ोतरी कर दी है तो वहीं ताज के दीदार के लिए पर्यटकों की समय सीमा भी तय कर दी है।

इस नई योजना के शुरु होते ही पर्यटक सिर्फ तीन घंटे तक ही ताज का दीदार कर सकेंगे। प्रवेश टिकट में दामों में हुई बढ़ोतरी एक अप्रैल से लागू हो जाएगी। एक अप्रैल से ताजमहल पर देशी पर्यटकों के लिए दो तरह के टिकट होंगे।

एक टिकट 50 का होंगा जिसे खरीदने पर पर्यटक ताजमहल में प्रवेश कर सकता है लेकिन ताजमहल के मुख्य गुम्बद तक नहीं जा पायेगा। देशी पर्यटक पहले 30 रुपये की टिकट में पूरे ताजमहल का भ्रमण कर लिया करता था लेकिन अब एक अप्रैल से 30 वाला टिकट भी 50 का मिलेगा। देशी पर्यटक को शाहजहां और मुमताज की कब्र भी देखनी होगी तो उसे अलग से उसके दाम चुकाने होंगे।

पिछले दिनों नेशनल एनवायरनमेंट इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट नीरी ने ताज में स्टेप टिकटिंग की सिफारिश की थी जिससे ताजमहल पर पर्यटकों का दवाब कुछ कम हो सके। नीरी की सिफारिश के बाद ही इस प्रणाली को लागू किया जा रहा है। अभी ASI का टिकट ₹30 का है जो 1 अप्रैल से ₹50 हो जाएगा। इसके अलावा ₹200 का टिकट भी होगा जिसे लेने पर पर्यटक शाहजहां मुमताज की कब तक पहुच सकेंगे।

इतना ही नहीं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ताज के दक्षिण गेट से पर्यटको का प्रवेश बंद होगा इस गेट से पर्यटक सिर्फ निकासी कर सकेंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*