मेयर ने खुद खड़े होकर खुलवाया नाला, अब मिलेगी जलभराव से मुक्ति

आगरा। हरीपर्वत थाने के सामने मंगलवार को नजारा कुछ अलग था। नगर निगम द्वारा एमजी रोड पर खोजे गये भूमिगत नाले की सफाई मंगलवार को अत्याधुनिक मशीनों से शुरू करा दी गई। इसका शुभारंभ आज महापौर नवीन जैन द्वारा हरीपर्वत थाने के सामने किया गया। करीब 25 साल बाद इस नाले की सफाई हो रही है। इसके लिए दिल्ली से सुपरसेट मशीनें मंगाई गई है। चार मशीनों के साथ 25 कर्मचारियों की एक टीम लगाई गई है। एक मशीन आक्सीजन के लिए लगाई है, जिससे नीचे उतरकर काम करने वाले कर्मचारियों को कोई परेशानी न हो। सफाई की पूरी प्रक्रिया नाले में कैमरे उतार कर एलसीडी पर निगम के अधिकारियों द्वारा देखी जा रही थी।

महापौर नवीन जैन ने बताया कि हरीपर्वत से लेकर स्पीड कलर लैब के सामने तक नाले की सफाई की जाएगी। यह नाला एक तरफ मदिया कटरा से तो दूसरी तरफ सूरसदन के सामने रामनगर, बाग फरजाना से होता हुआ हरीपर्वत आ रहा है। 20 दिन तक नाले की सफाई चलेगी। नाले की सफाई हो जाने पर सूरसदन के सामने एमजी रोड और रामनगर में होने वाले जलभराव से मुक्ति मिलेगी। 

महापौर नवीन जैन ने कहां की महापौर का पद संभालते ही मैंने सूरसदन के सामने होने वाले जलभराव को चुनौती के रूप में लिया था और नगर निगम अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि इस साल बारिश में MG रोड पर जलभराव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि इसी तरह शहर के अन्य नालों की भी सफाई कराई जाएगी।

इस दौरान क्षेत्रीय दुकानदारों से हुई बातचीत में दुकानदारों ने बताया कि विगत 20-22 सालों में उन्होंने आज तक ऐसा मेयर नहीं देखा जिसने जलभराव की समस्या को चुनौती के रूप में लेकर खुद सामने खड़े होकर समस्या का निस्तारण कराया हो। इसके लिए उन्होंने मेयर के साथ-साथ क्षेत्रीय पार्षद को भी धन्यवाद किया कि सीवर की सफाई होने के बाद उनकी दुकानों में जलभराव नहीं होगा।

इस मौके पर अपर नगर आयूक्त विजय कुमार, चीफ इंजीनियर तरुण शर्मा, पर्यावरण अभियंता संजीव प्रधान, पार्षद शरद चौहान, संजय राय और अर्पित सरास्वत आदि मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*