10 वर्षीय बच्चे के कारण बची परिवार की जान, हो सकता था बड़ा हादसा

आगरा में आंधी और बरसात का तूफान आने से पहले करीब 4:30 बजे सूर्य नगर निवासी अशोक रल्ली के घर में अचानक आग लग गयी। धुंए के गुबार बनकर उड़ने लगे। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। घर में मौजूद लोगों को आग लगने की सूचना मिली तो हड़कंप मच गया और घर में मौजूद लोगों ने घर के पीछे वाले दरवाजे से बहार निकले और अपनी जान बचाई।

बताया जाता है कि घर के सभी सदस्य अंदर थे और अशोक के 10 वर्षीय बेटे चैतन्य रल्ली ने सबसे पहले लगी आग को देखा और शोर मचाना शुरू कर दिया। आग के विकराल रूप को देखकर घरवालो ने तुरंत ही 100 नंबर पर और फायर ब्रिगेड को भी सूचना की लेकिन इससे पहले ही राहगीरों और पड़ोसियों ने आग पर काबू पाने के लिये मिटटी और पानी डालने लगे।

सूचना मिलते ही करीब 15 मिनट में फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंच गई तो वहीं पुलिस ने भी मोर्चा संभाला। दमकल कर्मियों को इस आग पर काबू पाने के लिए खासा मशक्कत करनी पड़ी और आग पर काबू पाया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया के घर में सीढ़ियों के नीचे टोरेंट का मीटर लगा हुआ था उसमें शॉर्ट सर्किट हुआ है। मीटर में लगी आग को लकड़ी के दरवाजे ने पकड़ लिया। देखते ही देखते चिंगारी ने तुरंत विकराल रूप ले लिया। मीटर में लगी आग आसपास के कमरों तक जा पहुँची थी।

इस हादसे से घरवाले काफी दहशत में थे। उनका कहना था कि इस तरह की घटना से पहली बार सामना हुआ है। वहीँ उनके बेटे चैतन्य की सक्रियता के चलते बड़ा हादसा होने से टल गया। अगर उनका बेटा इस आग को नहीं देखता तो आग और भयावह हो सकती थी।

फ़िलहाल इस घटना में कोई भी हताहत नहीं हुआ जिससे परिवार ने भी राहत की साँस ली है।

About admin 5978 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*