नेता जाएंगे जेल, नही बख्शे जाएंगे, देखे वीडियो

आगरा। एससी एसटी एक्ट को लेकर सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद सोमवार को आगरा जिले में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद से ही एसएसपी अमित पाठक ने इस पूरे मामले पर निगाहें बनाई हुई है। मंगलवार को एसएसपी अमित पाठक अपने दल बल के साथ आगरा जिले का दौरा करने के लिए निकले। एसएसपी अमित पाठक ने दलित समाज के सभी संवेदनशील क्षेत्रों में जाकर भ्रमण किया साथ ही उन स्थानों को भी देगा जहां पर कल बलवाइयों ने आंदोलन के रंग में इस हिंसक प्रदर्शनों को अंजाम दिया।

एसएसपी अमित पाठक ने उन स्थानों का भी निरीक्षण किया जहां पर बलवाइयों ने आग लगाई तोड़फोड़ और लूटपाट को अंजाम दिया। इस दौरान एसएसपी अमित पाठक ने आम लोगों से बातचीत कर स्थिति को भी जाना। सोमवार को हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद हुई तनाव पूर्ण शांति की झलक मंगलवार को भी बाजारों में देखने को मिली।

भले ही मंगलवार को आगरा जिले के किसी भी क्षेत्र से किसी भी तरह के प्रदर्शन की सूचना नहीं आई हो लेकिन बाजारों और क्षेत्रों में दहशत भरी शांति जरूर देखने को मिली।

एसएसपी अमित पाठक पूरे जिले का भ्रमण करने के बाद पत्रकारों से रूबरू हुए। इस वार्ता के दौरान उन्होंने बताया कि जिले में तनावपूर्ण शांति है बाजार खुले हुए हैं और आवागमन भी सुचारु रुप से शुरू हो गया है लेकिन इसके वाबजूद भी संवेदनशील स्थानों पर पुलिस फोर्स तैनात किया गया है। इस वार्ता के दौरान एसएसपी अमित पाठक ने साफ कहा कि इस शांतिपूर्ण प्रदर्शन को हिंसक बनाने के पीछे जिन नेताओं का हाथ है चाहे वह राजनीतिक हो या फिर समाजसेवी संगठन से जुड़े हुए पदाधिकारी सभी को चिन्हित किया जा रहा है।

जिन लोगों ने दंगा कर लूटपाट की उनकी गिरफ्तारी फुटेज के आधार पर की जा रही है। सभी को एक धाराओं में नामजद कर कार्रवाई की जाएगी इस हिंसक प्रदर्शन में शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*