जेएनयू के विवादित पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया को आगरा बुलाये जाने की तैयारी !

आगरा। डॉक्टर भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय के परिसर में जल्द ही जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया किसी भाषण में छात्रों को संबोधित करते हुए दिखाई दे सकते हैं। और हो सकता है छात्र नेता कन्हैया जिसके खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा भी चल रहा है, उसके विरोध में आगरा विश्वविद्यालय में विपक्षी छात्र संगठनों का विद्रोह या विरोध प्रदर्शन देखा जा सकता है।

बता दें कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय में पिछले दिनों दो नए छात्र संगठन का निर्माण हुआ है जिसमें एक छात्र संगठन जदयू पार्टी के नाम से है जबकि दूसरा संगठन एसएफआई के नाम से  तैयार हुआ है। SFI यानी स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया  कन्हैया की AISF छात्र संगठन  से प्रेरित  है और सन् 1995 तक ये संगठन छात्र राजनीति में सक्रिय रहा है। अब इसे फिर से पुनर्जीवित करने का प्रयास किया जा रहा है। इसलिए एस एफ आई छात्र संगठन अपने प्रचार प्रसार के लिए फरवरी माह में कन्हैया को बुलाने की तैयारी में है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक फरवरी के अंतिम सप्ताह में SC-ST का एक कार्यक्रम होना है। इस कार्यक्रम में आगरा विश्वविद्यालय के SC-ST कर्मचारी संघ से जुड़े कई सदस्य और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया छात्र संगठन से जुड़े सभी छात्र भाग लेंगे। इस कार्यक्रम के जब मुख्य अतिथि के बारे में पता किया गया तो पता चला कि इस कार्यक्रम में कन्हैया को बुलाए जाने की तैयारी चल रही है।

आपको बता दें कि यह वही कन्हैया है जिसने जेएनयू में छात्र संघ अध्यक्ष के दौरान कई विवादास्पद भाषण और नारे दिए थे। इस कारण उस समय से कन्हैया के ऊपर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया था। उस समय जेएनयू में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद यानी ABVP छात्र संगठन ने पूरे दमखम से कन्हैया और एआईएसएफ छात्र संगठन का पुरजोर विरोध किया था। इसलिए हो सकता है कि फरवरी माह के अंत में होने वाले इस कार्यक्रम में अगर कन्हैया अतिथि के रुप में आते हैं तो ABVP फिर से विरोध के मैदान में कूद सकती है और आगरा विश्वविद्यालय में दो छात्र संगठनों के बीच टकराव की स्थिति बन सकती है।

आगरा विश्वविद्यालय में नवनिर्मित छात्र संगठन एसएफआई के जिला संयोजक मनोज गौतम है। जबकि सह संयोजक श्याम किशोर और महामंत्री अभिषेक सिसोदिया को बनाया गया है। इसके अलावा छात्र शांतनु भी इस छात्र संगठन से जुड़े हैं। यह सभी छात्र खंदारी परिसर के स्कूल ऑफ लाइफ साइंस के छात्र हैं

बहरहाल आगरा विश्वविद्यालय के अधिकारियों को इन नए छात्र संगठन के बारे में विस्तार से जानकारी है या नहीं या, फरवरी माह में होने वाले कार्यक्रम में कन्हैया को बुलाए जाने की जानकारी है या नहीं। यह हमें नहीं मालूम लेकिन देखने वाली बात होगी कि क्या विश्वविद्यालय के अधिकारी जेएनयू के पूर्व विवादित छात्र नेता कन्हैया को विश्वविद्यालय परिसर में बतौर अतिथि के रूप में इजाजत देते हैं या नहीं। अगर कन्हैया को आगरा आने की इजाजत मिलती है तो क्या विश्वविद्यालय अधिकारी भविष्य में होने वाले छात्र संगठनों के बीच टकराव या प्रदर्शन की स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं या नहीं।

About admin 5927 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*