आईपीएस का करीबी हुआ धोखाधड़ी का शिकार, इसके ख़िलाफ लिखाया मुक़दमा

आगरा। आम जनता को अपने लुभावने जाल मे फंसाने वाले बिल्डर अब अधिकारियों को भी धोखा देने से नहीं चूक रहे है। ताजा मामला न्यू आगरा थाना क्षेत्र में सामने आया है जहाँ फिरोजाबाद के रहने वाले एक आईपीएस के परिवारीजनो के साथ बिल्डर सतीश चाहर ने फ्लैट बेचने के नाम पर धोखाघड़ी कर ली। हालांकि उक्त आईपीएस अन्य किसी प्रदेश में तैनात है। पुलिस अब धोखाघड़ी करने वाले बिल्डर को तलाशने मे जुटी थी।

दरअसल आगरा मे अकोला कस्बा के सतीश चाहर ने शस्य मंगलम इंफ्रा स्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के नाम से फर्म बनाकर बिल्डिग बनाने बेचने का व्यापार शुरू किया और खंदारी के देव नगर में देव श्री अपार्टमेंट बनवाया। फीरोजाबाद के रहने वाले सुरेश चंद्र जैन ने 11 अप्रैल 2017 को सतीश समेत सात के खिलाफ खिलाफ न्यू आगरा थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था। उनका आरोप है कि पूर्व में बिक चुके फ्लैट को आरोपियों ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर उन्हें बेच दिया। जानकारी पर उन्होंने रुपये वापस मांगे, तो वे धमकी देने लगे। मुकदमा दर्ज होने के बाद से पुलिस बिल्डर की तलाश कर रही थी। सोमवार को उन्हें खंदारी से गिरफ्तार कर लिया। वहीं अन्य पीड़ित सतीश चाहर का शिकार बन कर अभी भी फ्लैटों के मालिकाना हक को लेकर आपस में लड़ रहे हैं

एसपी सिटी ने बताया कि सतीश चाहर ने फर्जी कागजात तैयार कर एक ही फ्लैट कई लोगों को बेच दिया था। पुलिस अब फरार साथियों की तलाश कर रही है। अपना एक आशियाने पाने का सपना संजोए देव श्री अपार्टमेंट मे बनी फ्लैटों की खरीद फरोख्त में फंसे लोग अब गहरे संकट में है। बिल्डर सतीश चाहर के जेल जाने के बाद अब उनके सामने समस्या मौजूदा फ्लैटों के मालिकाना हक में आ रही अड़चनों को लेकर है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*