अंतर्विद्यालयी बाल कवि ऑनलाइन सम्मेलन, ज्वलंत मुद्दों पर छात्रों ने प्रस्तुत की मौलिक कविताएं

आगरा। हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार के उद्देश्य से छात्रों में छिपी रचनात्मक प्रतिभा को उभारने और आपसी सौहार्द विकसित करने के लिए हर वर्ष की भाँति प्रिल्यूड पब्लिक स्कूल में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में अंतर्विद्यालयी बाल कवि सम्मेलन का ऑनलाइन आयोजन किया गया। ज़ूम मीटिंग के माध्यम से ऑनलाइन प्रतियोगिता में आयोजित इसमें आगरा शहर के सी.बी.एस.ई और आई.सी.एस.ई के 22 विद्यालयों के छात्रों ने प्रतिभाग कर मौलिक कविताओं की प्रस्तुति की अपने और विद्यालयों का प्रतिनिधित्व किया।

प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में निर्णायकों के रूप में वरिष्ठ वर्ग में डॉ. मधु भारद्वाज, डॉ. सुनीता रानी घोष, डॉ.युवराज सिंह और कनिष्ठ वर्ग में डॉ. नमस्या, डॉ. दीपिका उपाध्याय और डॉ. कविता रायजादा सम्मिलित रहीं। आगरा शहर के प्रख्यात कवि पवन आगरी ने विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित होकर छात्रों को कविता लेखन के लिए प्रोत्साहित किया और अपने काव्य पाठ से सभी को आनंदित किया।

प्राचार्या याचना चावला ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ किया। उन्होंने विद्यार्थियों के रचनात्मक कौशल का विकास कर उसकी अभिव्यक्ति द्वारा ही एक विशेष पहचान और सम्मान देना कवि सम्मेलन का उद्देश्य बताया। उन्होंने छात्रों को हिंदी भाषा से प्रेम करने के लिए प्रेरित किया। इस सम्मेलन में हिंदी भाषा के महत्व को बताते हुए निर्णायकों का हार्दिक अभिनंदन किया तथा बाल कवियों को प्रतिभागिता के लिए हार्दिक शुभकामनाएँ दीं।

बाल कवियों ने समाज के विभिन्न ज्वलंत विषयों पर अपने मन के भावों को स्वरचित कविताओं के माध्यम से बड़े प्रभावी ढ़ंग से प्रस्तुत किया। राजनीति, भ्रष्टाचार, बचपन, पर्यावरण संरक्षण, बाल श्रम उन्मूलन, मानव स्वार्थ, समाज में बढ़ती दुष्प्रवृतियाँ, देश प्रेम, कोरोना, परिवार, माँ, प्रदूषण, प्रकृति संरक्षण आदि विषयों पर बाल कवियों ने अपनी प्रस्तुतियों से सभी को आनंदित किया।

निर्णायकों ने बाल कवियों को मौलिक कविता लेखन के लिए प्रेरित किया। सभी प्रतिभागियों की आकर्षक और मनोहर प्रस्तुति के लिए साधुवाद किया। आयोजक विद्यालय प्रिल्यूड पब्लिक स्कूल को इस तरह का अनूठा बाल कवि सम्मेलन आयोजित करने के लिए शुभकामनाएँ दीं तथा उत्तरोत्तर प्रगति पथ पर अग्रसर होने के लिए विद्यालय के प्रयास की प्रशंसा की। उन्होंने भविष्य में भी बाल कवियों को लेखन करते रहने को कहा।

विद्यालय के निदेशक डॉ. सुशील गुप्ता ने छात्रों का उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि किसी भी प्रतियोगिता में भाग लेना हार-जीत से बड़ा होता है। प्रतिभागिता से आपके आत्मविश्वास में वृद्धि होती है जो आप सभी की प्रस्तुतियों में दिखाई दी। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएँ देते हुए अपनी प्रतिभा को निखारने में आवश्यकता पडने पर कार्यक्रम के निर्णायकों से मार्ग दर्शन देने को कहा।

विद्यालय के निदेशक श्याम बंसल ने चयनित श्रेष्ठ कवियों की घोषणा करके उन्हें आशीर्वाद दिया और उनकी प्रस्तुतियों की सराहना की। कार्यक्रम का संचालन छात्रा मान्या अग्रवाल तथा वृंदा बंसल ने किया।

कार्यक्रम समन्वयक बबिता रानी ने धन्यवाद ज्ञापन कर अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया और सभी प्रतिभागी बाल कवियों को शुभकामनाएँ दीं। गौरव अरोरा, अभिषेक मिश्रा, डॉ.सुनीता शर्मा, नरेश कुमार, रंजना गुप्ता, अंजू श्रीवास्तव, अरसला नदीम, अर्पणा सक्सैना, पूजा गुप्ता, मोनिका सिंह का कार्यक्रम के सफल संचालन मे सहयोग रहा।

समस्त उदीयमान बाल कवियों के प्रतिभागियों प्रमाणपत्र एवं श्रेष्ठ कवियों के प्रमाण पत्र एवं मोमेन्टोस उनके विद्यालय में भेज दिए जाएँगे।

कनिष्ठ वर्ग के पाँच सर्वश्रेष्ठ कवि

1.सिमरन शर्मा, सेंट एंड्रयूज स्कूल

  1. प्रत्यक्षा शर्मा, सनफ्लावर पब्लिक स्कूल
  2. रिया पांडेय, ऑल सेंट्स स्कूल
  3. प्राप्ति सरीन, डॉ.एम पी एस वर्ल्ड स्कूल
  4. शौर्य महाजन, वायु सेना विद्यालय वरिष्ठ वर्ग के पाँच सर्वश्रेष्ठ कवि
  5. मान्या खरे, सनफ्लावर पब्लिक स्कूल
  6. मोहिनी मंगल, माही इंटरनेशनल स्कूल
  7. आध्या कुलश्रेष्ठ, सेंट फ्रांसिस कौंवेंट स्कूल, सिकंदरा
  8. कोमल शर्मा, सेंट एंड्रयूज स्कूल
  9. शैलजा गर्ग, गणेशराम नागर सरस्वती बालिका विद्या मंदिर
About admin 4630 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।