Home agra आगरा में जिला पंचायत अध्यक्ष के घर तक बना दी रोड, बाकी नहीं बनाई, लोगों का फूटा गुस्सा, जाम लगाया

आगरा में जिला पंचायत अध्यक्ष के घर तक बना दी रोड, बाकी नहीं बनाई, लोगों का फूटा गुस्सा, जाम लगाया

by admin
In Agra, the road was built till the house of the district panchayat president, the rest was not built, people's anger erupted, jammed

आगरा। आगरा में जिला पंचायत अध्यक्ष के घर तक बना दी रोड, बाकी नहीं बनाई। लोगों का फूटा गुस्सा। जाम लगाया। पुलिस मौके पर।

शमशाबाद रोड स्थित मारुति सिटी रोड कई वर्षों से खस्ताहाल और क्षतिग्रस्त पड़ी हुई है। जल निकासी की कोई उचित व्यवस्था ना होने के कारण डेढ़ किलोमीटर की रोड पर जलभराव हो गया है। जिसके चलते सड़क में एक से डेढ़ फुट तक गहरे गड्ढे है।

जल निकासी की कोई व्यवस्था ना होने के चलते नालों का गंदा पानी रोड पर हमेशा भरा रहता है। बारिश के दिनों में यहां दो से तीन फुट तक पानी भर जाता है।

आलम यह है कि आप हर समय सड़क पर पानी भरे होने के चलते सड़क में गहरे गहरे गड्ढे हो गए हैं जो आए दिन हादसों को न्योता देते हैं।

दर्जनभर कॉलोनी और चार कान्वेंट स्कूल

मारुति सिटी कॉलोनी से आगे भी लगभग एक दर्जन कॉलोनियां हैं और इस रोड पर चार कान्वेंट स्कूल भी हैं। हजारों लोग यहां से गुजरते हैं। जलभराव और गहरे गहरे गड्ढे होने के कारण आए दिन कोई ना कोई हादसे का शिकार होता रहता है

सबसे ज्यादा समस्याएं तो उन स्कूली बच्चों को होती हैं जो अपने वाहनों से इस रोड से स्कूल जाते हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि 12 वर्ष पूर्व ये रोड बनी थीए लेकिन उसके बाद जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते यहां आज तक रोड नही बनी है और अब यहां नारकीय हालात है।

लोगों ने लगाया जाम

नगर निगम व जनप्रतिनिधियों से कई बार गुहार लगा चुके लोगों का आक्रोश मंगलवार सुबह फूट गया। जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों की उदासीनता के चलते लोगों ने रामरघु एकजोटिका कालोनी के बाहर जाम लगा दिया।

यहां जिला पंचायत अध्यक्ष आगरा का भी निवास है। लोगों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया और प्रशासनिक अधिकारियों के ना आने तक धरना खत्म ना करने की बात कही।

सिर्फ जिला पंचायत अध्यक्ष के घर तक बनी रोड

जिला पंचायत अध्यक्ष के घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि जिला पंचायत अध्यक्ष को आवागमन में कोई दिक्कत ना हो इसके लिए उनके घर तक रोड बना दी गई। लेकिन विभाग ने अन्य कॉलोनियों और लोगों के बारे में कुछ नहीं सोचा क्या वह लोग इंसान नही हैं।

यहां से महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों का निकलना बहुत मुश्किल भरा होता है। कई बार स्कूटर से गिर कर घायल हो चुके है लेकिन इस स्थिति से ना तो जनप्रतिनिधियों को कोई सरोकार है और ना ही विभागीय अधिकारी इस ओर ध्यान दे रहे हैं।

जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस
जिला पंचायत अध्यक्ष के घर के बाहर जाम लगाए जाने और प्रदर्शन की सूचना पर थाना ताजगंज इंस्पेक्टर फोर्स के साथ मौके पर पहुँच गए और लोगो को समझा.बुझाकर शांत किया।

इसके बाद लोगों ने अपना मांग पत्र ताजगंज इस्पेक्टर को सौंपा। स्थानीय लोगों ने चेतावनी दी है कि जल्द सुनवाई ना हुई तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: