Home प्रशासन ‘कुछ दबंग व स्थानीय पुलिस-प्रशासन की मिलीभगत से संचालित हो रही है अवैध बसई सब्जी मंडी’ – उपेंद्र सिंह

‘कुछ दबंग व स्थानीय पुलिस-प्रशासन की मिलीभगत से संचालित हो रही है अवैध बसई सब्जी मंडी’ – उपेंद्र सिंह

by admin
'Illegal Basai vegetable market is being operated with the connivance of some domineering and local police-administration' - Upendra Singh
Spread the love

Agra. अवैध रूप से संचालित बसई सब्जी मंडी का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष उपेंद्र सिंह के नेतृत्व में बरोली अहीर मंडी के व्यापारी कमिश्नरी पहुंचे, जहां पर कमिश्नर अमित गुप्ता की अनुपस्थिति में व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल ने एडिशनल कमिश्नर से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने व्यापारियों और आढ़तियों की समस्याओं को उनके सामने रखा, साथ ही ज्ञापन सौंपकर समस्याओं का समाधान कराए जाने की मांग रखी।

एडिशनल कमिश्नर से वार्ता करने के दौरान कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष उपेंद्र सिंह ने उन्हें बताया कि फतेहाबाद रोड स्थित बसई मंडी अवैध रूप से संचालित हो रही है। इसे कुछ दबंग व असामाजिक तत्व स्थानीय प्रशासन व पुलिस के साथ मिलकर संचालित करा रहे हैं। अवैध रूप से संचालित बसई सब्जी मंडी का व्यापारी विरोध कर रहे हैं और बरौली अहीर मंडी पर धरने व अनशन पर बैठे हुए हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

उन्होंने एडिशनल कमिश्नर को अवगत कराया कि इस संबंध में अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी ने भी शासनादेश जारी किया है कि निगम परिधि में किसी भी तरह की सब्जी मंडी संचालित नहीं होगी। सब्जी व अन्य फसलों का व्यापार पहले से स्थापित मंडी से होगा लेकिन उनके आदेशों को भी हवा में उड़ाया जा रहा है।

'Illegal Basai vegetable market is being operated with the connivance of some domineering and local police-administration' - Upendra Singh

उन्होंने बताया कि बरौली अहीर मंडी में व्यापारियों ने 70 से 80 लाख तक की दुकानें खरीदी हैं लेकिन मंडी संचालित न होने से व्यापारी काफी परेशान हैं और उनकी रोजी-रोटी पर संकट उठने लगा है। कांग्रेस उपाध्यक्ष उपेंद्र सिंह ने व्यापारियों और आरोपियों की ओर से एडिशनल कमिश्नर महोदय को ज्ञापन सौंपा मांग की है कि अवैध रूप से संचालित बसई सब्जी मंडी को बंद कराए जाएं और बरौली अहीर मंडी को संचालित कराया जाए जिससे व्यापारियों को राहत मिल सके।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने चेतावनी देते हुए यह भी कहा कि अगर इस कथन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो कांग्रेस व्यापारियों और आढ़तियों के समर्थन में उग्र आंदोलन करने को मजबूर होगी।

Related Articles