Home देश-विदेश ‘यदि पत्नी जिद करे तो पति को उसकी पिटाई करनी चाहिए, ताकि उसे अनुशासित किया जा सके’

‘यदि पत्नी जिद करे तो पति को उसकी पिटाई करनी चाहिए, ताकि उसे अनुशासित किया जा सके’

by admin
'If the wife insists, the husband should beat her so that she can be disciplined'

मलेशिया की एक महिला मंत्री का बयान सुर्खियों में बना हुआ है। इस बयान के माध्यम से महिला मंत्री ने पुरुषों को एक ऐसी सलाह दी है, जिसके चलते विवाद पैदा हो गया है। दरअसल महिला मंत्री ने महिलाओं पर काबू पाने को लेकर एक हिंसक बयान दे डाला है। बता दें यह बयान देने वाली महिला मंत्री मलेशिया की महिला, परिवार और सामुदायिक विकास की उपमंत्री है, जिनका नाम सिती जैला मोहम्मद युसॉफ है।

मंत्री का कहना है कि यदि पत्नी जिद पर अड़ जाती है और अभद्र व्यवहार करती है, तो फिर पति को उसकी पिटाई करनी चाहिए, ताकि उसे अनुशासित किया जा सके। इसके अतिरिक्त महिला मंत्री ने अन्य भी एक विवादित सुझाव दिया है।

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने अपने एक वीडियो संदेश में कुछ विचार रखे हैं जिनमें से एक यह भी है कि पुरुष अपनी पत्नियों के साथ बात करके उन्हें अनुशासित करें। अगर उनकी पत्नी सलाह मानने से इनकार करती है तो उनके साथ तीन दिन तक न सोएं। वे अलग सोने के बाद भी अपना रवैया नहीं बदलती है तो पति उन पर सख्ती दिखाएं। वे अपनी पत्नियों की पिटाई करें।

उन्होंने यह भी कहा कि इससे पत्नी को पता चल सकेगा कि उनके पति कितने सख्त हैं और क्या बदलाव चाहते हैं। ऐसा नहीं है कि उन्होंने सिर्फ पुरुषों को ही सलाह दी हो बल्कि उन्होंने महिलाओं को पतियों का दिल जीतने की भी सलाह दी और कहा कि अगर महिलाएं अपने पति का दिल जीतना चाहती हैं तो उनकी अनुमति मिलने पर ही उनसे कुछ कहें। पतियों से तभी बात करें जब वे शांत हों। खाना खा चुके हों और प्रार्थना कर चुके हों, आराम कर रहे हों। जब आप बोलना चाहती हैं तो पहले उनसे अनुमति लें।

महिला मंत्री सिती जैला मोहम्मद युसॉफ के इस बयान के बाद सोशल मीडिया के साथ-साथ मलेशिया में भी हड़कंप मचा हुआ है। मंत्री को अपने इस बयान के चलते कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं कई संगठन उनसे इस्तीफे की मांग भी कर रहे हैं। महिला मंत्री पर घरेलू हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप भी लगाया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो महिला मंत्री का यह पहला बयान नहीं है जो कि विवादित है बल्कि इससे पहले भी महिला मंत्री कई विवादित बयान दे चुकी हैं। तकरीबन एक साल पहले दिए बयान में महिला मंत्री ने कहा था कि महिलाओं को चाहिए कि वे अपने साथ मारपीट करने वाले पतियों को माफ कर दें।

Related Articles

%d bloggers like this: