‘जा रहा हूं एक मां के लिए दूसरी मां को छोड़कर’, कारगिल विजय दिवस पर वेबिनार का आयोजन

आगरा। ‘विपरीत परिस्थितियों में अदम्य शौर्य एवं साहस का प्रदर्शन करना, भारतीय सैनिकों की आदत में शामिल है।’ यह कहना है डॉ. बी आर आंबेडकर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो अशोक मित्तल का। प्रो. मित्तल एनसीसी आगरा ग्रुप द्वारा कारगिल विजय दिवस के अवसर पर आयोजित वेबिनार में मुख्य अतिथि के रुप में एनसीसी अधिकारी एवं कैडेट्स को संबोधित कर रहे थे।

प्रो. मित्तल ने कहा कि कारगिल युद्ध में भारतीय सेना ने पाकिस्तान की कुटिलता एवं धूर्तता का करारा जवाब देकर संपूर्ण विश्व में अपने शौर्य का लोहा मनवाया था। एनसीसी कैडेट्स के कार्यों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि आप भविष्य के सैनिक हैं। युद्ध काल से लेकर शांति काल तक एनसीसी कैडेट्स की विशेष भूमिका रहती है। उन्होंने स्वयं के छात्र जीवन में एनसीसी के दिनों को याद करते हुए कहा सीएनसीसी मल्टी टास्क फोर्स का कार्य करती है।

मुख्य वक्ता अवकाश प्राप्त सैन्य अधिकारी कर्नल यूसी दुबे ने सभी एनसीसी अधिकारी एवं कैडेट्स का देश की सेनाओं के शौर्य के विषय में विस्तृत जानकारी देकर मनोबल बढ़ाया। कर्नल दुबे ने कारगिल युद्ध के बारे में बताते हुए कहा कि पाकिस्तानी सैनिक हम से अधिक ऊंचाई पर थे, ऐसे में फायर एंड मूव विदाउट कवर करना बहुत मुश्किल था। लेकिन 10000 फीट के हाई एल्टीट्यूड पर भारतीय जवानों ने पाकिस्तानियों को उनके घर तक खदेड़ दिया। उन्होंने सेना द्वारा प्रयोग किए जाने वाली मिसाइलों तथा हेलीकॉप्टर के बारे में विस्तार से बताया, साथ ही भारत की रक्षा प्रणाली पर भी उन्होंने प्रकाश डाला। इसके अतिरिक्त सीमा पर भारतीय सेना किस प्रकार और पड़ोसी देशों से भारत की रक्षा कर रही है, उसके बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने कारगिल में अपनी पोस्टिंग के दौरान आए अनुभवों को भी कैडेट्स के साथ साझा किया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में वन यूपी बटालियन के अधिकारी लेफ्टिनेंट अमित अग्रवाल ने सभी कैडेट्स को देश की सेवा एवं सुरक्षा के लिए शपथ दिलाई। वेबीनार में आगरा ग्रुप की 8 बटालियनों के एनसीसी अधिकारी एवं कैडेट्स उपस्थित रहे।

“जा रहा हूं एक मां के लिए दूसरी मां को छोड़कर” जैसी भावपूर्ण कविताओं से कैडेट्स ने वेबीनार के वातावरण को ओजपूर्ण एवं भावपूर्ण कर दिया। वेबिनार में सभी बटालियनों के चयनित कैडेट्स ने देशभक्ति से परिपूर्ण कविताओं का गायन किया। इसके अतिरिक्त कैडेट्स ने कारगिल युद्ध के संदर्भ में अपने विचार भी व्यक्त किए।

वेबीनार का संचालन सीनियर अंडर ऑफिसर लक्ष्मी बसवराज ने किया। अतिथियों का स्वागत अंडर ऑफिसर प्राची शर्मा ने तथा धन्यवाद ज्ञापन सार्जेंट तनिष्का माथुर ने किया। इस अवसर पर अंडर ऑफिसर शुभम यादव ने क्विज कंपटीशन में कारगिल युद्ध से संबंधित प्रश्नों को कैडेट से पूछा।

वेबिनार में अंडर ऑफिसर विश्वजीत सिकरवार, प्रशांत चौधरी, अनन्या, हिमांशु वशिष्ठ, प्रियंका आदि कैडेट्स का विशेष योगदान रहा। इस अवसर पर ले. दिनेश लाल, ले. मनीष कुमार, ले., नीलम कांत, कैप्टन राजीव रंजन, जगदीश यादव, केके यादव, श्रीप्रकाश मौर्य, नवजोत सिंह आदि एनसीसी अधिकारी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

About admin 4357 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।