बटेश्वर धाम में लगा महाशिवरात्रि का विशाल मेला, दूरदराज से आये कांवड़ियों ने चढ़ाया कांवड़

Huge fair of Mahashivaratri held in Bateshwar Dham, Kanwari came from far away

Agra. महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर उत्तर भारत के प्राचीन प्रसिद्ध तीर्थ धाम बटेश्वर में महाशिवरात्रि मेला आयोजन किया गया। इस पावन पर्व पर बटेश्वर शिव मंदिर पर भक्तों की अच्छी खासी भीड़ देखने को मिली। मंदिर में तड़के सुबह 3 बजे से ही कांवर चढ़ाने वाले शिव भक्तों की लंबी लंबी लाइन लगी हुई थी तो वही मंदिर प्रशासन ने भी महाशिवरात्रि पर्व को लेकर सारी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर रखी थी। दूरदराज से आए कावड़ियों, श्रद्धालुओं और साधु-संतों को कोविड-19 के नियमों का पालन कराते हुए मंदिर में प्रवेश दिया गया।

कांवडियों ने एक-एक कर कांवड़ चढ़ाई तो श्रद्धालु और साधु-संतों ने विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की। इस दौरान बटेश्वर शिव मंदिर भगवान शिव के जयकारों से गूंजता रहा। महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर भगवान शिव की विधि विधान से पूजा अर्चना कर भक्त भी काफी उत्साहित नजर आए।

Huge fair of Mahashivaratri held in Bateshwar Dham, Kanwari came from far away

विधि विधान से की भगवान शिव की पूजा आराधना-

महाशिवरात्रि के पावन पर्व को लेकर बटेश्वर के मंदिर के महंत ने बताया कि भक्तों ने आज जलाभिषेक करने के साथ-साथ बेलपत्र, धतूरा के साथ पूजा आराधना की है। शिव की पूजा आराधना में इन्हें शामिल किया जाता है।

101 साल बाद शिव और सिद्धि योग बना-

ज्योतिषाचार्य शिवशरण पाराशर ने बताया कि महाशिवरात्रि के दिन शिव योग, सिद्धि योग और घनिष्ठा नक्षत्र का संयोग बन रहा है। इससे पर्व की महत्ता और अधिक बढ़ गई है। ऐसे में महाशिवरात्रि पर्व की पूजा विधि-विधान के साथ करना विशेष कल्याणकारी होगा।

कोरोना काल के बाद पहला भव्य मेला –

कोरोना संक्रमण को लेकर बटेश्वर के शिव मंदिर के साथ सभी मंदिरों को बंद कर दिया गया था। 1 माह पहले ही बटेश्वर शिव मंदिर के पट खुले हुए हैं। लगभग 1 साल बाद भगवान शिव के दर्शन करने के लिए भक्त भी काफी आतुर दिखाई दिए। भक्तों ने बताया कि लगभग 1 साल बाद इस भव्य मेले का आयोजन हुआ है। साधु संतों के साथ भारी संख्या में कांवरिया भी शिव पूजा आराधना के लिए पहुंचे हैं।

भारी संख्या में पुलिस बल तैनात-

महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर बटेश्वर शिव मंदिर पर आयोजित हुए मेले को लेकर पुलिस प्रशासन ने भी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर रखी थी। काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था जो मंदिर के चप्पे-चप्पे पर तैनात था तो वहीं पुलिस की एक टुकड़ी लगातार गश्त कर रही थी जिससे किसी भी तरह की अप्रिय घटना ना हो।

यमुना घाटों पर पहरा-

महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर भारी संख्या में साधु संत और भक्त पहुंचे थे। शिव की पूजा आराधना करने से पहले भक्तों ने यमुना नदी में डुबकी लगाई। इस दौरान यमुना घाटों पर भारी संख्या में पुलिस बल और गोताखोरों को तैनात किया गया था। वहीं पुलिस प्रशासन की ओर से यमुना के तेज बहाव को देखते हुए यमुना घाटों के नजदीक न जाने का अनाउंसमेंट भी किया जा रहा था।

अगर आप हमारे न्यूज़ ब्रेकिंग के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करके हमें सपोर्ट करें, धन्यवाद…

https://chat.whatsapp.com/LaErqf25r0FDcVNYJTZMo9

About admin 6698 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।