फ़तेहपुर सीकरी सीट पर कांग्रेस ने दिया सभी पार्टी को झटका, देखिए राजबब्बर के साथ कौन कौन आया साथ में

आगरा। भाजपा के साथ साथ सपा, बसपा और रालोद का संयुक्त गठबंधन लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को सबसे कमजोर पार्टी के रूप में देख रहा था लेकिन कांग्रेस पार्टी ने आगरा जिले में सपा बसपा गठबंधन को बहुत बड़ा झटका दिया है। कांग्रेस पार्टी ने बसपा और रालोद में इस लोकसभा चुनाव में सबसे बड़ी सेंधमारी कर दी है। शनिवार को आगरा आये कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने होटल पीएल पैलेस में प्रेस वार्ता की और बसपा के तीन कद्दावर पूर्व विधायक डॉक्टर धर्मपाल, भगवान सिंह कुशवाह और ठाकुर सूरज पाल के साथ रालोद के पूर्व विधायक अनिल चौधरी, अकोला से ब्लॉक प्रमुख ओंकार सिंह को कांग्रेस में शामिल कराया और उन्हें खुद कांग्रेस पार्टी की सदस्यता दिलाई।

लोकसभा चुनाव को लेकर अभी तक चल रहे दल बदल के खेल में कांग्रेस का यह सबसे बड़ा झटका है जो बसपा और रालोद को लगा है। लोकसभा चुनाव के एन वक्त पर बसपा के यह पूर्व विधायक अब हाथी की सवारी करने से इनकार कर दिया है तो रालोद के नेताओ ने अब हेंडपम्प चलाने से इंकार कर कांग्रेस के पंजे से हाथ मिला लिया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर खुद इस बार फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ने जा रहे हैं। उससे पहले बसपा में सेंधमारी कर राजबबर ने अपने किले को मजबूत बना लिया है जो दूसरे दल के प्रत्याशियों को भेदना मुश्किल पड़ जायेगा।

प्रेसवार्ता के दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आगरा मेरी जन्म भूमि रही है तो फतेहपुर सीकरी लोकसभा उनकी कर्मभूमि रही है। एक बार फिर कर्मभूमि ने बुलाया है तो मैं आपके बीच मे हूं। बसपा के तीन पूर्व विधायक और रालोद नेताओं को पार्टी में शामिल कराये जाने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बोले कि यह सभी मेरे पुराने साथी है अब मुझे उनके समर्थन की जरूरत है तो मैंने इन्हें आवाज दी है और वो मेरे कहने पर मेरे साथ खड़े हैं।

बसपा को छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने पर पूर्व विधायक धर्मपाल सिंह और सूरजपाल ने तो बोलने से इंकार कर दिया लेकिन पूर्व विधायक भगवान सिंह कुशवाह बोले कि आप को तो सब पता है कि बसपा में क्या चल रहा है। पूर्व विधायक भगवान सिंह ने बातो ही बातों में बसपा की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाये और अपना दर्द भी बयाँ कर गए।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*