बदल गया ट्रैफिक पुलिस का चेहरा

आगरा। बदलते जमाने के साथ-साथ आगरा ट्रैफिक पुलिस भी बदल रही है। बदलते दौर में अब आगरा की ट्रैफिक पुलिस के हाथों में चालान बुक की जगह आप ई चालान इलेक्ट्रॉनिक मशीन देखेंगे। जी हां स्टेशनरी से दूर अब ताजनगरी आगरा में यातायात नियमों का उल्लंघन करने के लिए e-challan की नई व्यवस्था लागू की गई है।

हाल ही में यह व्यवस्था भले ही शहर के चन्द चौराहों पर लागू हुई हो। मगर एसपी ट्रैफिक आगरा प्रशांत कुमार का दावा है कि जल्द ही इस व्यवस्था को पूरे शहर में लागू कर दिया जाएगा। कहीं कुछ दिक्कतें आ रही हैं । जिन समस्याओं का समाधान खुद एसपी ट्रैफिक कर रहे हैं। ई चालान इलेक्ट्रॉनिक मशीन ऑपरेट करने के लिए सभी टीएसआई को प्रशिक्षित कर दिया गया है। इलेक्ट्रॉनिक मशीन व्यवस्था लागू होने से यातायात पुलिस और जनता के फायदों पर गौर करें तो। e-challan इलेक्ट्रॉनिक मशीन से जहां ट्रैफिक पुलिस को स्टेशनरी का फायदा हो रहा है। तो वही लोग ऑन स्पॉट एटीएम , क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के जरिए लोग नगद जुर्माना कर सकेंगे। यानी लोगों को न्यायालय के चक्कर काटने के फजीहत से बचना पड़ेगा।

आगरा एसपी ट्रैफिक प्रशांत कुमार का दावा है कि इलेक्ट्रॉनिक मशीन से चालान होने पर गाड़ी और गाड़ी स्वामी का बायोडाटा स्लिप के माध्यम से निकल कर आएगा और लगातार तीन बार चालान होने पर ड्राइविंग लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्यवाही भी की जाएगी। यानी अब यह देखा जा रहा है कि ताजनगरी आगरा की यातायात पुलिस बदलते दौर में हाईटेक हो रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*