मनोहारी विद्युत सज्जा एवं रंग बिरंगी आतिश बाजी के बीच पहुंचा भक्तो का सैलाव गुरुद्वारा गुरु का ताल

ऐतिहासिक स्थान गुरुद्वारा गुरु का ताल पर सिक्खों के प्रथम गुरु, गुरु नानक देव जी के ५४९ वा प्रकाश पूरब पर्व पर सुबह से ही भक्तो का सैलाव देखने को मिला। भारी संख्या में सिख समाज के लोग गुरुद्वारा गुरु के ताल पहुँचे और गुरु घर में शीश नवा कर अरदास की। तो वही श्री गुरु नानक देव जी एवं श्री गुरु तेग बहादुर साहिब की चरण पादुकाओ के दर्शन कर सभी ने धर्मलाभ कमाया।

सुबह मुख्य दरबार हाल में श्री गुरु ग्रंथ साहिब का प्रकाश किया गया जिसके उपरांत पांचों बानियो का नित नेम ,सम्पूर्ण आसा दी बार का कीर्तन हुआ तो शाम को गुरुद्वारा मंजी साहिब में कथा वाचक भाई केवल सिंह ने सूरज प्रकाश ग्रंथ की लड़ी दार कथा में श्री गुरु नानक साहिब जी की मक्का मदीना यात्रा जिक्र करते हुए बताया कि परमात्मा एक ही है और कण कन में विराजमान है। मक्का मदीना जाकर श्री गुरु नानक साहिब ने धर्म का उपदेश दिया था।
कथा वाचक भाई रणजीत सिंह ने गुरु नानक साहिब जी के प्रकाश पूरब पर प्रकाश डालते हुए बताया कि गुरु नानक साहिब जी का जन्म राय भोए की तलवंडी में हुआ जहा का राजा राय बुलार था गुरु नानक साहिब के जन्म स्थान होने के कारण इस स्थान को ननकाना साहिब कहते है।

इस अवसर पर मुख्य आकर्षण का केंद्र बिना प्रदूषण की आतिशबाजी रही। इस आतिश बाजी का शुभारंभ गुरु के ताल के मौजूदा मुखी संत बाबा प्रीतम सिंह जी ,सांसद राम शंकर कठेरिया,नगर प्रमुख नवीन जैन ,विधायक योगेन्द्र उपाध्याय ,विधायक जगन प्रसाद गर्ग जिलाधिकारी महोदय एन जी रवि कुमार ने रिमोर्ट दबाकर किया।

इस आतिश बाजी में ११०० कलर गोले ,मुख्य दरबार परिसर के बाहर फायर बॉल,२५० मिसाइल बार ,२००० स्काई शॉट ,गोल्ड विलोम ,मेरी गोल्ड ,स्काई किले डिजिटल स्टार आदि एक के बाद एक आतिशबाजी की गयी जो प्रदूषण फ्री थी।

इस अवसर पर पहुँचे राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य सरदार मंजीत सिंह राय ने अपने उद्बोधन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का शुक्रिया करते हुए बताया कि साल भर होने वाले आयोजन में केंद्र सरकार द्वारा सिक्के ,डाक टिकट जारी किए जाएंगे। देश में एवम विदेश में श्री गुरु नानक देव जी की कुर्सी बनाई जाएगी ।साथ पत्रकारों का जवाब देते हुए बताया कि अल्पसंख्यक आयोग में सभी वर्गो में बराबर सम्मान है नाकी केवल एक वर्ग का दूसरा यदि २०१९ में बी जे पी सरकार आती है तो १४ नवंबर को बाल दिवस श्री गुरु गोविंद सिंह जी के चारों साहिब जादो के नाम से मनाया जाएगा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*