ADA और नगर निगम के बीच खेल में रुका पालीवाल पार्क का विकास

72 एकड़ में फैला शहर के बीचों बीच स्थित पालीवाल पार्क का अधिकांश भाग रात में अंधेरे में रहता है। अंधेरे के चलते विगत 4 जनवरी की रात को कार हादसा हुआ, जिसमें दो व्यक्ति घायल हो गये। पार्क की रेलिंग को तोड़ती हुई कार पार्क में घुस गई। जहाँ यह हादसा हुआ उसके ठीक सामने लगे हुए बिजली के खम्बे पर कोई प्रकाश की व्यवस्था नहीं है।

हादसे पर दुःख व्यक्त करते हुए पालीवाल पार्क में घूमने वालों की संस्था ‘गुड माॅर्निंग आगरा’ की ओर से उसके संरक्षक के0सी0 जैन ने कहा कि पार्क में उचित प्रकाश व्यवस्था हेतु उद्यान विभाग और नगर निगम दोनों के विरुद्ध ही मुख्यमंत्री के पोर्टल पर पूर्व में शिकायत दर्ज की थी, जिसके जवाब में उद्यान विभाग ने नगर निगम को केवल एक पत्र लिखकर अपनी जिम्मेदारी पूरी कर ली। दूसरी ओर नगर निगम ने शिकायत का जवाब यह दिया कि प्रकाश व्यवस्था खराब है किन्तु यह कार्य आगरा विकास प्राधिकरण को करना है। प्राधिकरण की ओर से भी कोई व्यवस्था नहीं हुई।

गुड माॅर्निंग आगरा का कहना है कि पार्क की सड़कों की प्रकाश व्यवस्था और सफाई की जिम्मेदारी नगर निगम की है, जिसे उसे पूरा किया जाना चाहिए। इस मुद्दे को लेकर तथा पार्क की अन्य अव्यवस्थाओं को दूर करने के लिए गुड माॅर्निंग आगरा शीघ्र ही इलाहाबाद उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर करने जा रही है ताकि सफाई, रखरखाब, सुरक्षा व प्रकाश व्यवस्था के सही इंतजाम हो सकें। गुड माॅर्निंग आगरा के अध्यक्ष रविशंकर अग्रवाल, सचिव किशोर जैन, राजेश खण्डेलवाल, विजय सेठिया, अतुल गुप्ता, अजय बंसल संतोष महेश्वरी आदि ने भी पार्क की व्यवस्थाओं में सुधार की मांग की और जिसे शहर के सबसे अच्छे व सुरक्षित पार्क के रूप में विकसित करने के लिए कहा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*