आवारा पशु किसानों के लिए बने सिरदर्द, की मुआवजे की मांग

फतेहाबाद। तहसील फतेहाबाद मे आवारा घूम रहे पशु किसानों के लिए सिरदर्द बन गए है। बेलगाम आवारा पशु आये दिन किसानों की फसल चौपट कर लाखो रुपये का नुकसान कर रहे है लेकिन संबंधित विभाग और प्रशासन कोई कदम नही उठा रहा है जिससे किसानों मे रोष व्याप्त है। किसान मजदूर सेवा समिति  के बैनर तले किसानों ने चार सूत्रीय मांगों को लेकर शुक्रवार को डौकी से लेकर फतेहाबाद तहसील मुख्यालय तक पदयात्रा निकाली और नायाब तहसीलदार सत्य प्रकाश को मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंप अपनी समस्याओं को सामने रखा।

किसान मजदूर सेवा समिति के अध्यक्ष नत्थू सिंह धाकरे ने बताया कि आवारा गोवंश किसानों की हजारों बीघा फसल को नष्ट कर रहे है। अपनी फसलों को बचाने के लिए दिनरात निगरानी करनी पड़ रही है। आवारा पशुओं से अपनी फसल बचाने में लगे किसानों की दिनचर्या बिगड़ गयी है। पहले परिवार का एक सदस्य खेत की रखवाली करता था लेकिन अब पूरा घर इस काम में लगा है। इतना ही नही फतेहाबाद की सड़को पर भी वाहनों से ज्यादा पशु नजर आते है। जिनके कारण आये दिन दुर्घटनाएं हो रही है और इन दुर्घटनाओं में कई लोगों की जान भी जा चुकी हैं।

किसानों का कहना है कि योगी सरकार ने गोवंश हत्या पर तो रोक लगा दी लेकिन इन्हें सुरक्षित रखने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की है। जिसका खामियाजा किसानों और आम व्यक्ति को भुगतना पड़ रहा है। किसानों ने आवारा गोवंश के लिए जगह जगह गौशाला खोले जाने की मांग की है।

किसान मजदूर सेवा समिति ने यूपी सरकार से मांग की है कि आवारा गौवंश द्वारा किसानों की जो फसल बर्बाद हुई है। उसे देवीय आपदा मानते हुए राजस्व विभाग द्वारा निरीक्षण कराकर किसानों को उचित मुआवजा दिया जाए। खरीफ फसल के अनाज बाजरा एवं तिलहन के समर्थन मूल्य जो सरकार द्वारा निर्धारित है उसके लिए सरकारी जगह जगह क्रय केंद्र खोले जाएं। फतेहाबाद तहसील एवं फतेहाबाद के आसपास की तहसीलों में नलकूप एवं घरेलू कनेक्शनों पर विद्युत बिल टीटीजेड के अनुसार बिल आता है जबकि टीटीजेड के आधार पर  हमें 22 से 24 घंटे बिजली मिलने का आदेश है और सप्लाई 12 से 15 घंटे मिलती है। या तो विधुत दर घटाऐ या फिर 24 घंटे वह विधुत सप्लाई दिलाई जाये।

इस अवसर पर राजेश शर्मा, महताब सिंह, दीवान सिंह, मौहकम सिंह,जयवीर सिंह, महावीर सिंह, राजुद्दीन, भागसिंह, हुकमसिंह आदि मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*