‘डी-ग्लोबलाइजेशन पॉलिसी से मिलेगा स्वदेशी को बल, जॉब क्रिएटर बन युवा बना सकते हैं आत्मनिर्भर भारत’

आगरा। ‘देश के युवा जॉब सीकर नहीं, जॉब क्रिएटर बने, तब ही देश से बेरोजगारी दूर हो सकेगी’ यह कहना है आगरा कॉलेज एनसीसी आर्मी विंग के कंपनी कमांडर लेफ्टिनेंट अमित अग्रवाल का। वह कंपनी द्वारा गूगल नेट पर आयोजित आत्म निर्मर भारत अभियान के अंतर्गत वेबिनार में कैडेट्स को संबोधित कर रहे थे।

एनसीसी आर्मी विंग, आगरा कॉलेज द्वारा एनसीसी महानिदेशक के निर्देश पर 1 से 15 अगस्त तक चल रहे आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत आज एक वेबिनार का आयोजन किया गया, जिसमें कैडेट्स ने “स्वतंत्र भारत-आत्मनिर्भर भारत” विषय पर अपने अपने विचार व्यक्त किए।

लेफ्टिनेंट अमित अग्रवाल ने आगे कहा कि भारत प्राचीन काल से ही आत्मनिर्भर था। विदेशी आक्रांताओं के आक्रमण और लूट-खसोट ने भारत के विकास को अवरुद्ध कर दिया। हमारे ज्ञान का लोहा संपूर्ण विश्व मानता था। आज आवश्यकता है कि वर्तमान कोविड-19 महामारी के कारण जो परिस्थितियां पैदा हुई है, उसको देश का नौजवान एक अवसर में बदल दे। स्थानीय स्तर पर स्टार्टअप के माध्यम से छोटे-छोटे उद्योग धंधों को प्रारंभ कर स्वयं को भी रोजगार दें और अपने साथ कई अन्य लोगों के लिए भी रोजगार प्रदाता बने।

डी-ग्लोबलाइजेशन पॉलिसी का समर्थन करते हुए कहा कि इसमें आयात को हतोत्साहित किया जाएगा जिससे स्थानीय उत्पादों को आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा।

अंडर ऑफिसर आशुतोष सिंह ने आत्मनिर्भर भारत अभियान में एनसीसी के योगदान की चर्चा की।अंडर ऑफिसर लक्ष्मी बसवराज एवं सार्जेन्ट प्रशांत चौधरी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के पांच प्रमुख स्तंभों अर्थव्यवस्था, इंफ्रास्ट्रक्चर, प्रौद्योगिकी, गतिशील जनसांख्यिकी एवं मांग के बारे में विस्तार से बताया।

सार्जेन्ट तनिष्का माथुर एवं कैडेट सानिया कुमारी ने देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्थानीय उत्पादों को अधिक से अधिक प्रयोग करने के साथ ही स्थानीय उत्पादों की गुणवत्ता को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाने पर भी जोर दिया।

कैडेट आशीष चौधरी ने अभियान की संभावित चुनौतियों के बारे में बताते हुए कहा कि आने वाले समय में हमें अपने उत्पादों की गुणवत्ता को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा के अनुकूल तैयार करना होगा।

वेबिनार का संचालन अंडर ऑफिसर अनिकेत शर्मा ने किया तथा धन्यवाद कैडेट सुहाना खान ने दिया। सार्जेन्ट कविशा गौतम ने सभी का स्वागत किया। अंडर ऑफिसर विश्वजीत सिकरवार, अंडर ऑफिसर शुभम यादव, कैडेट हिमांशु एवं धर्मवीर ने भी अपने-अपने विचार प्रकट किए।

About admin 4630 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।