Home राजनीति डेंगू बुखार के मरीजों के इलाज के लिए खून की कमी होने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने किया रक्तदान

डेंगू बुखार के मरीजों के इलाज के लिए खून की कमी होने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने किया रक्तदान

by admin
Congress state president donated blood due to lack of blood for the treatment of dengue fever patients
Spread the love

Agra. फिरोजाबाद में डेंगू तेजी के साथ अपने पैर पसार रहा है। डेंगू के बढते मामलों और बच्चों की हुई मौत को लेकर सियासत भी गरमा गई है। मंगलवार को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’ फ़िरोज़ाबाद के सरकारी अस्पताल में बच्चों के हाल-चाल लेने के लिए पहुँचे लेकिन जैसे ही उन्हें पता चला कि डेंगू मरीजों को खून की आवश्यकता है तो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कार्यकर्ताओं के साथ ब्लड बैंक पहुंच कर रक्तदान किया और सभी पदाधिकारियों को रक्तदान करने के निर्देश दिए। बताया जाता है कि मंगलवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू का जन्मदिन भी था और इस दिन से उन्होंने मरीजों के लिए हर संभव मदद की पहल भी शुरू की। सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी फिरोजाबाद पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने डेंगू की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी ली थी और डेंगू से ग्रसित मरीजों और उनके स्वजनों से मुलाकात की थी।

मंगलवार दोपहर साढ़े 12 बजे प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, महिला प्रदेश अध्यक्ष (बुंदेलखंड जोन) करिश्मा ठाकुर समेत अन्य पदाधिकारी के साथ फ़िरोज़ाबाद मेडिकल कालेज के अस्पताल में डेंगू से पीड़ित बच्चों का हाल-चाल लेने के लिए पहुँचे। उन्होंने डेंगू पीड़ित मरीजों और उनके परिजनों से वार्ता की और सरकारी अस्पताल में मिल रहे इलाज की भी जानकारी ली। इस पर मरीजों के परिजनों और चिकित्सकों ने बच्चों के लिए खून की आवश्यकता के बारे में बताया। इस मामले को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने गंभीरता से लिया और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ अस्पताल में बने ब्लड बैंक पहुँच गए। पहले प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और करिश्मा ठाकुर ने रक्तदान किया। इसके बाद अन्य पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने रक्त देना शुरू किया।

ब्लड बैंक में ब्लड डोनेट करने के बाद कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश के कई जिले डेंगू और बुखार की चपेट में हैं। डेंगू के चलते हजारों मरीजों और डेंगू से ग्रसित बच्चों को खून की आवश्यकता है लेकिन सरकार मरीजों के लिए खून का इंतजाम नहीं कर पा रही है। मुख्यमंत्री राहत के नाम पर हेलीकाप्टर से घूमकर प्रचार कर रहे हैं। इसलिए कांग्रेस का सिपाही रक्तदान कर रहे हैं। कांग्रेस जनसेवा में कभी पीछे नहीं रही। भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल है। इस दौरान उन्होंने मृत बच्चों के परिवार वालों को दस-दस लाख रुपये आर्थिक मदद दिए जाने की मांग की।

Related Articles