Home राजनीति आगरा जहरीली शराब कांड के पीड़ितों को 20-20 लाख मुआवजा दिलाने की कांग्रेस ने की मांग

आगरा जहरीली शराब कांड के पीड़ितों को 20-20 लाख मुआवजा दिलाने की कांग्रेस ने की मांग

by admin
Congress demands 20-20 lakh compensation to the victims of Agra Poisonous Liquor Case
Spread the love

Agra. जहरीली शराब के सेवन से आगरा के देवरी, घड़ी जहान सिंह, चितौरा और कोलारा कलां में जान गंवाने वाले मृतकों के परिवार से कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधि मंडल में शामिल पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य और उत्तर प्रदेश का सरकार के पूर्व मंत्री सतीश शर्मा ने पीड़ित परिवारों को सांत्वना दी और पूरी घटना की जानकारी भी ली। इस दौरान उन्होंने उस परिवार से भी मुलाकात की जिनके बेटे को पुलिस ने अपनी नाकामी छुपाने के लिए रात के 2:00 बजे जबरदस्ती अंतिम संस्कार भी कर दिया था। पीड़ित परिवार ने अपना दर्द उनके साथ साझा करते हुए पुलिस के प्रति अपना आक्रोश भी व्यक्त किया। कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने पुलिस की नाकामी और पीड़ितों के उत्पीड़न को लेकर सरकार के प्रति अपनी नाराजगी व्यक्ति की।

पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य ने पीड़ित परिवारों को भरोसा दिलाया कि दु:ख की इस घड़ी में कांग्रेस पार्टी उनके साथ खड़ी हुई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी खुद इस मामले को लेकर गंभीर हैं और प्रदेश के राज्यपाल व मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर इस मामले के दोषियों पर कठोर कार्रवाई के साथ-साथ प्रभावित परिवारों को मुआवजा देने की मांग करेंगे। पूर्व मंत्री प्रदीप आदित्य जैन ने बताया कि सरकार द्वारा पीड़ितों को उन्हें 20-20 लाख मुआवजा दिए जाने की मांग की है।

पूर्व मंत्री सतीश शर्मा ने कहा योगी सरकार पूरी तरीके से फेल हो चुकी है। पहले अलीगढ़ का शराब कांड और अब आगरा में भी यही कहानी दोहराई गई है। योगी सरकार का पुलिस तंत्र पूरी तरह से फेल है। दोनों वरिष्ठ नेताओं ने मांग की के हाई कोर्ट के जज से आगरा शराब कांड की जांच कराई जाए और दोषी लोगों पर कठोर कार्रवाई की जाए।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता उपेंद्र सिंह ने भी अपनी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की। उनका कहना था कि आबकारी अपनी जिम्मेदारी पूरी तरह से नहीं निभा रहा है। इसलिए तो ठेके पर जहरीली शराब बिक रही है जिसके सेवन पर लगभग एक दर्जन लोगों की मौत हो गयी लेकिन आबकारी व पुलिस इसे झुठलाने में लगी है। पीड़ित परिवारों को इंसाफ दिलाने के लिए हर लड़ाई लड़ेगी।

इस दौरान जिला अध्यक्ष राघवेंद्र मीनू, शहर अध्यक्ष देवेंद्र चुल्लू, विनेश सनवाल, नसीम खान, सुरेश रावत, सौरभ दुबे, अमित सिंह, रोहन रघुवंशी आदि मौजूद रहे।

Related Articles