आगरा विवि में हुए लाठीचार्ज की कांग्रसियों ने की निंदा, प्रियंका गांधी को पूरे घटनाक्रम से कराया अवगत

आगरा। शनिवार को आगरा विश्व विद्यालय में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज की घोर निंदा करते हुए कांग्रेसियों ने अपना विरोध जताया है। कांग्रेसियों का कहना था कि एबीवीपी संगठन को छोड़कर एनएसयूआई और अन्य छात्र संगठनों को निशाना बनाया गया। पुलिस ने जानबूझकर एनएसयूआई व अन्य छात्र संगठनों ले कार्यकर्ताओं पर लाठी बरसाई जिसमें एनएसयूआई कार्यकर्ताओं के गंभीर चोटें आई हैं। चार एनएसयूआई कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हुए है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शब्बीर अब्बास ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी व महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को ई मेल के माध्यम से इस पूरे घटना क्रम से अवगत कराया है और इस मामले में उचित कदम उठाए जाने की मांग की है।

वरिष्ठ नेता शब्बीर अब्बास का कहना था कि एबीवीपी जानबूझकर आगरा विश्वविद्यालय में प्रदर्शन कर रही थी जबकि एनएसयूआई कार्यकर्ता वहां से गुजर रहे थे। उन्हें देखकर जमकर नारेबाजी करने लगे जिसके चलते दोनों संगठन आमने-सामने आए। लेकिन पुलिस ने सिर्फ एनएसयूआई और अन्य छात्र संगठनों के कार्यकर्ताओं को ही अपना निशाना बनाया। शब्बीर अब्बास का कहना था कि जेएनयू प्रकरण को लेकर एबीवीपी आगरा विश्वविद्यालय में अराजकता का माहौल पैदा कर रही है। जहां भाजपा की सरकार है वहां पुलिस ने तानाशाही अपना कर इन संगठनों को खुली छूट दे दी। यूपी पुलिस की तो तानाशाही अंग्रेजी हुकूमत की याद दिलाती है।

कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष दुष्यंत शर्मा ने भी पुलिस की इस कार्रवाई की कड़ी निंदा की है। उनका कहना था कि जब विश्वविद्यालय में प्रदर्शन की अनुमति नहीं थी तो पुलिस बल के तैनात होने के बावजूद एबीवीपी को प्रदर्शन करने की छूट कैसे दी गई। फिर जब दो छात्र संगठन आमने सामने आए तो सिर्फ एनएसयूआई और अन्य छात्र संगठनों के कार्यकर्ताओं को ही क्यों निशाना बनाया गया।
पुलिस और प्रशासन की इस कार्रवाई के विरोध में संगठनात्मक रणनीति तैयार कर मोर्चा खोला जाएगा।

About admin 2611 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।