उत्तर प्रदेश के इस तीर्थनगरी के होटल में नहीं ठहर पाएंगे चीनी नागरिक, मेन्यू कार्ड से चाइनीज फ़ूड भी हटाया

मथुरा। LAC पर चीन द्वारा किये गए कायराना हमले के बाद देशभर में चीन के ख़िलाफ़ आक्रोश है। लोग चीनी उत्पादों को जलाकर और बहिष्कार कर विरोध जता रहे हैं। इस बीच तीर्थनगरी मथुरा-वृंदावन के होटल संचालकों ने बड़ा फैसला लिया है। अब चीनी नागरिक तीर्थनगरी के होटलों में नहीं ठहर पाएंगे। 

होटल ऑनर्स एसोसिएशन ने कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (सीएआईटी) के अभियान का समर्थन करते हुए मथुरा-वृंदावन के होटल मालिकों ने चीनी उत्पादों का बहिष्कार किया है, साथ ही होटलों में चीनी नागरिकों को नहीं ठहराने का फैसला लिया है। इतना ही नहीं मेन्यू कार्ड से चाइनीज फूड हटाने का भी फैसला लिया है।
 
गुरुवार को होटल संगठन ऑनर्स एसोसिएशन की बैठक में वर्तमान परिस्थिति पर चर्चा की। संगठन के महामंत्री अमित जैन बताया कि मथुरा-वृंदावन होटल ऑनर्स एसोसिएशन सीएआईटी के अभियान के साथ है, जिसमें चीनी वस्तुओं के बहिष्कार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर आत्मनिर्भर भारत व लोकल से वोकल और कैट के ‘भारतीय सामान-हमारा अभिमान’ को पूरे ब्रज क्षेत्र में जनमानस तक लेकर जाएंगे। इसी के तहत मथुरा-वृंदावन के होटल संचालकों ने चीनी नागरिकों को कमरा न देने और मेन्यू कार्ड से चाइनीज फूड को हटाने का फैसला लिया है। 

एसोसिएशन के अध्यक्ष कृष्ण दयाल अग्रवाल ने कहा कि चीनी सैनिकों ने कारयाना हरकत करते हुए धोखे से भारतीय सैनिकों पर हमला किया है। इसी के कारण मथुरा-वृंदावन के सभी होटल व्यवसायियों में यह फैसला किया है। अब चीनी नागरिकों को होटलों के कमरे उपलब्ध नहीं कराएंगे और न ही चाइनीज फूड होगा।

About admin 4161 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।