Home स्थानीय ‘बच्चों को कोरोना और डेंगू से बचाना है, जब तक खतरा टल ना जाए, स्कूल नहीं बुलाना है’

‘बच्चों को कोरोना और डेंगू से बचाना है, जब तक खतरा टल ना जाए, स्कूल नहीं बुलाना है’

by admin
Children have to be saved from corona and dengue, until the danger is averted, do not call school'
Spread the love

आगरा। अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से छोटे-छोटे बच्चों के लिए स्कूल खोलने की अनुमति को वापस लेने की जोरदार अपील की। शुक्रवार को संस्था के प्रमुख पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट में हाथों में तख्ती लेकर प्रदर्शन किया। तख्ती पर लिखा था- “बच्चों को कोरोना और डेंगू से बचाना है। जब तक खतरा टल ना जाए, स्कूल नहीं बुलाना है।” इस बाबत जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी की अनुपस्थिति में उनके प्रतिनिधि एसीएम चतुर्थ विनोद कुमार को दिया गया।

इस मौके पर जिलाध्यक्ष एवं प्रमुख समाजसेवी मुरारी लाल गोयल ‘पेंट’ और प्रांतीय संगठन मंत्री वीके अग्रवाल ने संयुक्त रूप से कहा कि इन मासूमों की जिंदगी को सरकार खतरे में डाल रही है। स्कूल खोलने की अनुमति को सरकार को गंभीरता से लेना चाहिए।

उन्होंने कहा कि एक ओर तीसरी लहर की दस्तक है, दूसरी ओर छोटे-छोटे बच्चों को अभी तक वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है, ऐसे में स्कूल खोलना एक बड़ा खतरा हो सकता है और अभिभावक भी इससे भयभीत हैं। अतः जब तक तीसरी लहर का खतरा टल ना जाए या स्कूली बच्चों के वैक्सीनेशन पूरी तरह ना हो जाएं, तब तक स्कूलों को खोलने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

ज्ञापन देने और तख्ती लेकर प्रदर्शन करने वालों में अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के प्रांतीय संगठन मंत्री वीके अग्रवाल, जिला संगठन मंत्री प्रदीप कुमार लूथरा, डॉ. एसपी सिंह, हरिओम गोयल, चेतन वर्मा, ऋषभ बंसल और राकेश वर्मा प्रमुख रूप से शामिल रहे।

Related Articles