Home आगरा मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने किया आगरा मेट्रो रेल परियोजना का दौरा

मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने किया आगरा मेट्रो रेल परियोजना का दौरा

by admin

आगरा। उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने आगरा मेट्रो रेल परियोजना का दौरा किया। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा शनिवार दोपहर 1 बजे ताज ईस्ट गेट मेट्रो स्टेशन पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कॉनकोर्स एवं प्लेटफार्म क्षेत्र में फिनिशिंग एवं ट्रैक आदि कार्यों का निरीक्षण किया। दुर्गा शंकर मिश्रा ने समयबद्धता और सटीकता के साथ परियोजना को पूरा करने के लिए यूपीएमआरसी की टीम की सराहना की। इस दौरान यूपी मेट्रो के प्रबंध निदेशक सुशील कुमार, निदेशक रोलिंग स्टॉक अतुल कुमार गर्ग सहित सभी वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।

मीडिया से बातचीत करते हुए दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा कि विश्वभर में पर्यटन के लिए प्रख्यात आगरा शहर में तेज गति के साथ विश्वस्तरीय मेट्रो का निर्माण किया जा रहा है। यूपीएमआरसी की टीम परियोजना को समय पर पूरा करने की दिशा में लगन से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि आगरा मेट्रो के निर्माण की गति बेहद सराहनीय है और इस रफ्तार के फलस्वरूप आगरावासियों को निर्धारित समय से पूर्व मेट्रो सेवा का लाभ मिलेगा।

मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा कि यूपी मेट्रो द्वारा उच्चतम तकनीक का प्रयोग करते हुए विश्वस्तरीय सेवा का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ एवं मेक इन इंडिया मिशन के तहत आगरा मेट्रो ट्रेनों का निर्माण गुजरात के सावली में किया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आगरा मेट्रो के स्टेशनों का डिजाइन भी बेहद आकर्षक है।

वहीं, इस दौरान यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक सुशील कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने आगरा मेट्रो के स्टेशनों के निर्माण एवं फिनिशिंग कार्यों को देखने के बाद आगरा मेट्रो टीम की सराहना की। उन्होंने कहा कि आगरा मेट्रो प्रयोरिटी कॉरिडोर के ऐलिवेटिड भाग में सिविल निर्माण पूरा होने के बाद फिनिशिंग कार्य अंतिम चरण में है। वहीं, सिग्नलिंग, ट्रैक एवं ट्रैक्शन आदि सिस्टमों का काम भी तेज गति के साथ किया जा रहा है।

सुशील कुमार ने कहा कि भूमिगत मेट्रो स्टेशन के निर्माण कार्यों को पूर्ण होने में 4 – 4.5 साल का समय लगता है। लेकिन यूपी मेट्रो द्वारा प्रयोरिटी कॉरिडोर के भूमिगत भाग को रिकॉर्ड 2 साल से भी कम समय में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इसी लक्ष्य को पाने के लिए यूपी मेट्रो सटीक गुणवत्ता एवं उच्चतम तकनीक का प्रयोग करते हुए बेहद तेज गति के साथ भूमिगत भाग का निर्माण कर रही है। बता दें कि मार्च, 2022 में आगरा मेट्रो के भूमिगत भाग का निर्माण शुरू किया गया था।

यूपीएमआरसी ने प्रायोरिटी कॉरिडोर (ताज ईस्ट गेट से जामा मस्जिद) के 3 किमी लंबे एलिवेटेड सेक्शन पर सिविल निर्माण पूरा कर लिया है और फिनिशिंग का काम उन्नत चरण में है। रैंप एरिया भी तैयार है। कट एंड कवर एरिया (तीसरा साइट जहां टीबीएम लॉन्च होगा) पर भी काम तेजी से चल रहा है। अंडरग्राउंड सेक्शन में ताजमहल से लेकर आरबीएस कॉलेज तक सभी 7 अंडरग्राउंड स्टेशनों पर सिविल वर्क चल रहा है। टीबीएम ‘गंगा’ और ‘यमुना’ वर्तमान में 3 किमी भूमिगत खंड पर काम कर रहे हैं अप और डाउन लाइन के लिए प्राथमिकता वाले कॉरिडोर और टनलिंग का काम भी तेजी से पूरा होने की ओर बढ़ रहा है।

सुशील कुमार ने बताया कि यूपी मेट्रो द्वारा डिपो परिसर में मेट्रो ट्रेन की टेस्टिंग की जा रही है। जल्द ही मेनलाइन (वायडक्ट) में ट्रेन का हाई स्पीड परीक्षण किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: