अब नहीं काटने होंगे छावनी परिषद के चक्कर, घर बैठे टैक्स भरने के साथ समस्याएं करा सकेंगे दर्ज़

आगरा। छावनी परिषद की जनता को अब किसी भी कार्य के लिए छावनी परिषद के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। नगर निगम की तर्ज पर छावनी परिषद भी छावनी परिषद पोर्टल शुरू करने जा रहा है। देश में 62  छावनी परिषद है जिसमें से पांच छावनी परिषद को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चुना गया है जिसमें लखनऊ, पुणे, सिकंदराबाद, दिल्ली और आगरा शामिल है।

E छावनी नाम से शुरू होने वाले पोर्टल के माध्यम से छावनी परिषद की जनता को अब बड़ी राहत मिलने वाली है। घर बैठकर छावनी परिषद की जनता हाउस टैक्स, वाटर टैक्स व्यापारिक प्रतिष्ठान टैक्स भर सकेगी। इसके अलावा कई अन्य समस्याओं की शिकायत भी पोर्टल के माध्यम से दूर किया जा सकेगा, जिसकी जानकारी सीईओ छावनी परिषद ज्योति कपूर ने दी।

सीईओ छावनी परिषद ज्योति कपूर ने बताया कि देश के 62 छावनियों को मिलाकर एक यूनिफाइड पोर्टल बनाया जा रहा है। उसका नाम E छावनी पोर्टल रखा गया है। इस पोर्टल पर 62 छावनी ऑनलाइन रहेंगे। यह अभी टेस्टिंग पर है। इसमें से 5 पायलेट कैंट बोर्ड में आगरा भी शामिल है। आगरा कैंट बोर्ड इस ओर तेजी के साथ काम कर रहा है। इस डिजिटलाइजेशन प्लेटफार्म से यह फायदा मिलेगा कि छावनी क्षेत्र के रहने वाले सभी लोग इस वेबसाइट पर जाकर सभी प्रकार के टैक्स ऑनलाइन घर बैठकर जमा कर सकेंगे और उन्हें छावनी परिषद के चक्कर नही लगाने पड़ेंगे।

फिलहाल छावनी विभाग जल्द से जल्द इस E छावनी पोर्टल की टेस्टिंग कार्य को पूरा करने में लगे हुए है जिससे जल्द से जल्द E छावनी पोर्टल को लांच कर सके और इसका लाभ जनता ले सके।

About admin 4357 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।