Home agra आगरा के न्यू दक्षिण बाईपास से गुजरने से पहले हो जाएं सावधान, कई फुट गहरे हुए गड्ढे

आगरा के न्यू दक्षिण बाईपास से गुजरने से पहले हो जाएं सावधान, कई फुट गहरे हुए गड्ढे

by admin
Be careful before passing through Agra's New South Bypass, several feet deep pit

आगरा। सावधान! आप आगरा के न्यू दक्षिण बाईपास से गुजर रहे हैं… यहां पर होने वाले हादसे के आप खुद जिम्मेदार होंगे…. यह हम नहीं कह रहे यहां की सड़कें और यहां के हालात बता रहे हैं… सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़के हैं यह आप खुद ही तय कर लीजिए…।

दिल्ली—ग्वालियर रोड को जोड़ने वाला आगरा न्यू दक्षिण बाईपास हुआ पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुका है। जिसके चलते आए दिन हादसे हो रहे हैं। इन दुर्घटनाओ से लोगों की मौत भी हो रही हैं बावजूद इसके प्रशासन ने अपनी आंखों पर पट्टी बांध रखी है। बता दें कि 450 करोड रुपए की लागत से बने न्यू दक्षिण बाईपास पर भ्रष्टाचार की परतें खुल रही हैं रोड पर कई फीट गहरे और चौड़े गड्ढे हो गए हैं। पूरा न्यू दक्षिण बाईपास छलनी हो गया है।

न्यू दक्षिण बाईपास 450 करोड रुपए की लागत से 6 साल पहले बना था। करीब 32•8 किलोमीटर लंबे न्यू दक्षिण बाईपास के दोनों ओर बारिश के पानी से सड़क धस गई है काफी गहरे गहरे गड्ढे हो गए हैं। आगरा ग्वालियर रोड गांव बाद से गांव महुअर तक कई गहरे गड्ढे हैं जिनसे रोजाना हादसे होते रहते हैं नगला कुठावली और ककुआ के समीप बाईपास किनारे करीब 30 फुट चौड़ी और 50 फुट गहर ढाय गिर गई है। दोनों तरफ सड़क धंस गई हैं। जगह-जगह डामर उखड़ गई है मिट्टी बाहर निकल आई है एक-दो हल्की बारिश ने भ्रष्टाचार की पोल खोल कर रख दी है जिससे एनएचएआई अफसरों की पोल की परते खुलने लगी हैं। ज्यादातर गांव बाद से लेकर महुअर काफी गहरे गड्ढे हो गए हैं,बाईपास के नीचे मिट्टी हटने से गुफा बन गई है।

विधायक बाबूलाल ने 23 जून को लिखा था पत्र, लेकिन कोई असर नहीं हुआ।

अगर हम बात गड्ढों के अलावा भी करें तो एक और बड़े हादसों का कारण न्यू दक्षिण बाईपास पर बना हुआ है। रोड की दोनों तरफ जो पेड़ खड़े हैं वह इतना बढ़ गए हैं कि डिवाइडर को पार करने के बाद बाईपास की ओर निकल आए हैं जिससे हादसे होते रहते है अगर कोई दो पहिया वाहन निकलता है तो निश्चित ही उसके साथ हादसा होना है क्योंकि दोपहिया वाहन वाले चालक जब अपने वाहन को डिवाइडर की तरफ लेते हैं तो वहां पेड़ों की डालियां आगे निकली हुई हैं जिनकी वजह से छोटे वाहनों का डिसबैलेंस हो जाता है जिससे हादसे हो जाते हैं

हाईवे से निकलने वाले हरेंद्र सिंह का कहना है कि प्रशासन पूरी तरह से लापरवाह हो रहा है हाईवे पर काफी गहरे गड्ढे बने हुए हैं रोजाना एक के बाद एक बड़े हादसे हो रहे हैं लेकिन प्रशासन चुप्पी साधे हुए हैं। वाहनों पर टोल टैक्स तो खूब लिया जा रहा है लेकिन यह नहीं देखा जा रहा की बाईपास की क्या स्थिति हो गई है। अब देखना होगा कि प्रशासन कब तक न्यू दक्षिण बाईपास के गड्ढों की वजह से होने वाले हादसों पर अंकुश लगा सकता है

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: