छात्रों के घर मार्कशीट्स भी पहुंचाएगा आगरा विवि, परिसर में बनेगा बैडमिंटन कोर्ट – नई कैंटीन

आगरा। छात्र-छात्राओं की मार्कशीट और डिग्रियों के समाधान के लिए डॉ भीमराव आंबेडकर विवि द्वारा शुरू की गई हेल्प डैस्क ने एक अभिनव प्रयोग प्रारंभ किया है। कुलपति प्रो अशोक मित्तल ने प्रेस वार्ता में बताया कि विद्यार्थियों की समस्याओं के समाधान के लिए पहले हेल्प डेस्क तैयार की गई थी जिसमें उनके प्रार्थना पत्रों पर उनका मोबाइल नंबर लिखवाना प्रारंभ कर उन्हें एक कंप्लेंट नंबर दिया जा रहा था। अब विद्यार्थियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए हमने निर्णय लिया है कि उनकी अंकतालिकाओं को स्पीड पोस्ट के माध्यम से सीधे उनके घर भेज दिया जाए। यह व्यवस्था प्रारंभ कर दी गई है और अब तक लगभग 5000 अंक तालिकाएं विद्यार्थियों को उनके घर पर भेज दी गई हैं।

इस नयी व्यवस्था को शुरू करते हुए कुलपति प्रो. अशोक मित्तल ने बीएससी पार्ट 2 की छात्रा पूजा को अपने हाथों से अंकतालिका प्रदान की। आगे कुलपति ने बताया कि हेल्प डेस्क पर अनुभवी कर्मचारियों को बैठाया गया है जो विद्यार्थियों को भली प्रकार से निर्देशित करते हैं और उनके आवेदन पत्र को पूर्ण कराते हैं, जिससे उन्हें असुविधा ना हो।

कुलपति ने बताया कि ऑनलाइन व्यवस्था को और अधिक दुरुस्त करने के लिए एक ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है जिसमें विद्यार्थियों का आवेदन पत्र तब तक स्वीकार नहीं किया जाएगा जब तक उसमें वांछित सभी कागजात नहीं लगे होंगे।

ऑफलाइन आवेदन जो विश्वविद्यालय को अब तक प्राप्त हुए थे उनकी भी इंडेक्सिंग कराई जा रही है। कंप्यूटर सेंटर की एक टीम लगाकर उनको एक्सेल शीट में तैयार किया जा रहा है, जिससे यथाशीघ्र उनका भी निस्तारण किया जा सके।

विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों के लिए केएमआई के पास एक नई कैंटीन का निर्माण कराया गया है जिसकी दो खिड़कियां पालीवाल पार्क में भी खुलेंगे। वर्तमान में विद्यार्थियों का विश्वविद्यालय में प्रवेश प्रतिबंधित है इसलिए वे बाहर से भी इस सुविधा का लाभ ले सकते हैं। केएमआई परिसर में फिट इंडिया मूवमेंट के तहत एक इनडोर बैडमिंटन कोर्ट का भी निर्माण किया गया है, जहां विद्यार्थियों और शिक्षकों के साथ-साथ कर्मचारी गण भी इसका लाभ उठा सकते हैं।

आवासीय परिसर के विभागाध्यक्ष और निदेशकों से कहा गया है कि वे अपने विभाग और संस्थान का एक अकादमिक कैलेंडर बनाकर यथाशीघ्र प्रस्तुत करें, जिससे सेमेस्टर परीक्षाओं का निर्णय लिया जा सके।

औटा के पदाधिकारियों की भी एक बैठक बुलाई जा रही है, जिसमें संबद्ध महाविद्यालयों की परीक्षाओं के बारे में चर्चा होगी। प्रश्न पत्र की प्रकृति और समय सीमा पर विचार किया जाएगा।दीक्षांत समारोह मार्च के प्रथम या द्वितीय सप्ताह में आयोजित किए जाने का प्रस्ताव राजभवन भेजा जाएगा।

इस अवसर पर परीक्षा नियंत्रक डॉ राजीव कुमार, जनसंपर्क अधिकारी प्रो प्रदीप श्रीधर, एजेंसी प्रभारी प्रो उमेश चंद्र शर्मा और हेल्प डेस्क के प्रभारी पी. के. सिंह उपस्थित रहे।

About admin 5449 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।