Home agra आगरा मेट्रो: पहले कॉरिडोर के संपूर्ण भाग में निर्माण कार्य प्रारंभ, अंडरग्राउंड स्टेशनों के लिए मिट्टी की जांच शुरू

आगरा मेट्रो: पहले कॉरिडोर के संपूर्ण भाग में निर्माण कार्य प्रारंभ, अंडरग्राउंड स्टेशनों के लिए मिट्टी की जांच शुरू

by admin
Agra Metro: Construction work started in the entire part of the first corridor

आगरा। ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच बन रहे प्रथम कॉरिडोर के संपूर्ण भाग में उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन द्वारा निर्माण कार्य शुरु कर दिए गए हैं।

आगरा मेट्रो टीम ने प्रथम कॉरिडोर के अंतिम तीन स्टेशनों के निर्माण हेतु मिट्टी की जांच शुरू कर दी है। फिलहाल, आगरा मेट्रो द्वारा बोरिंग कर मिट्टी के नमूने एकत्र करने का काम किया जा रहा है। बता दें कि प्रथम कॉरिडोर में कुल 13 स्टेशनों का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें 6 एलिवेटिड एवं 7 भूमिगत स्टेशन हैं।

यूपी मेट्रो के प्रबंध निदेशक सुशील कुमार ने बताया कि आगरा मेट्रो टीम ने प्रथम कॉरिडोर में निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिए हैं। प्रायॉरिटी कॉरिडोर के तीन एलिवेटिड स्टेशनों सहित सभी 7 सात भूमिगत स्टेशन का निर्माण कार्य जारी है।

इसके बाद अब आगरा मेट्रो टीम ने अंतिम तीन एलिवेटिड स्टेशनों के निर्माण हेतु मिट्टी का परिक्षण शुरू कर दिया है।

सुशील कुमार ने बताया कि शहरवासियों एवं आगरा आने वाले पर्यटकों के लिए प्रथम कॉरिडोर बेहद अहम हैं। प्रथम कॉरिडोर आगरा शहर के सभी ऐतिहासिक स्थल एवं प्रमुख बाजारों को जोड़ कर शहर को गति देने का काम करेगा।

बता दें कि आगरा मेट्रो का प्रथम कॉरिडोर शहर के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल एवं बाजारों को जोड़ेगा। शहर में मेट्रो सेवा शुरू होने के बाद शहरवासी एवं देश-विदेश से आने वाले सैलानी मेट्रो सेवा लाभ उठाते हुए ताजमहल, आगरा किला, गुरू का ताल एवं सिकंदरा जैसे प्रमुख स्थलों का दीदार कर सकेंगे। इसके साथ ही शहरवासी एवं पर्यटक जाम एवं प्रदूषण जैसी समस्याओं से जूझे बिना परिवार के साथ शॉपिंग का लुत्फ भी उठा सकेंगे।

आगरा में 29.4 किमी लंबे दो कॉरिडोर का मेट्रो नेटवर्क बनना है, जिसमें 27 स्टेशन होंगे। ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच 14 किमी लंबे पहले कॉरिडोर का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है।

इस कॉरिडोर में 13 स्टेशनों का निर्माण हो रहा है, जिसमें 6 एलीवेटेड व 7 भूमिगत स्टेशन हैं। इसके साथ ही आगरा कैंट से कालिंदी विहार के बीच लगभग 16 कि.मी. लंबे दूसरे कॉरिडोर का निर्माण किया जाएगा, जिसमें 14 ऐलीवेटेड स्टेशन होंगे।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: