किचन में हाथ बंटाते आगरा महापौर नवीन जैन ने कहा साथी हाथ बढ़ाना… देखिये

आगरा। कोरोना के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए और इससे निपटने व आम व्यक्ति के स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉक डाउन कर दिया है जो जहां है वहीं रहे, लक्ष्मण रेखा ना लांघे। ऐसी अपील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से की गई इस अपील को दृष्टिगत रखते हुए शहर के महापौर व अखिल भारतीय महापौर परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष नवीन जैन भी पूरी तरह से अमल में ला रहे है। 21 दिन के लॉक डाउन को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी की अपील के बाद महापौर नवीन जैन ने भी अपने घर में काम करने वालों को छुट्टी दे दी है और उनसे घर में ही रहने को कहा है।

जब हम महापौर नवीन जैन से मिलने पहुंचे तो महापौर के घर का नजारा भी बदला हुआ था। घर में काम करने वालों को छुट्टी देने के बाद से महापौर नवीन जैन पीएम नरेंद्र मोदी की लक्ष्मण रेखा न लांघने की अपील का अनुसरण करते हुए अपनी धर्मपत्नी के साथ घर के काम में हाथ बंटाते हुए नजर आये। एक तरफ महापौर की पत्नी रसोई में खाना बना रही है तो महापौर उनका हाथ बंटाते हुए घर के बर्तन स्वयं धो रहे थे। महापौर नवीन जैन ने बर्तन साफ करने के साथ ही घर के अन्य कार्यों में भी अपनी पत्नी का पूरा सहयोग किया और ऐसे ही समय बिताया।

महापौर नवीन जैन की धर्म पत्नी रेनू जैन का कहना था कि कोरोना के चलते घर में काम करने वालों को छुट्टी दी गयी है, अब वो खुद ही घर और रसोई का कार्य संभाल रही है। इस कार्य में उन्हें उनके पति का पूरा सहयोग मिल रहा है। इस समय दोनों मिलकर काम कर रहे हैं। मैं खाना बनाती हूँ तो महापौर बर्तन साफ करते हैं और सफाई के दौरान वो झाड़ू लगाते हैं तो मैं पौछा लगा रही हूं। आजकल पूरा परिवार एक दूसरे का सहयोग करके घर का काम कर रहा है।

वहीं महापौर नवीन जैन ने भी सभी पतियों से अपील की कि इस समय वो अपनी पत्नियों का पूरा सहयोग करे। घर के काम काज में पूरा साथ दे और मिलकर काम करे जिससे पत्नियों पर काम का अधिक बोझ न पड़े। मैं खुद मेयर होकर अपनी पत्नी का हाथ बटा सकता हूँ तो आप क्यों नहीं।

महापौर नवीन जैन का कहना था कि मैं पीएम नरेंद्र मोदी के अभी तक के सभी आदेशों का अक्षरशः पालन कर रहा हूं। लॉक डाउन के दौरान मैं घर से बाहर नही निकलूंगा और लक्ष्मण रेखा पार नही करूंगा। जब देश के पीएम और सूबे के सीएम 21 दिन के लॉक डाउन का पालन कर रहे हैं तो में भी जिम्मेदार नागरिक होने के नाते इसे अमल में ला रहा हूँ। मैं घर में ही हूं लेकिन शहर के प्रति जिम्मेदारी का निर्वहन भी घर में रहकर पूरा कर रहा हूं। फ़ोन के माध्यम से लगातार कोरोना से निपटने के लिए नगर निगम की ओर से किये जा रहे कार्यों की जानकारी ले रहा हूं और इससे संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए जा रहे हैं जिससे शहर में अच्छी तरफ से निरंतर फॉगिंग और सफाई हो सके।

महापौर नवीन जैन ने कहा कि टेलीफोन के माध्यम से पार्षदों व सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों से भी वार्ता कर अनुरोध किया गया है कि इस समय देश संकट की घड़ी में है जो जहां रह रहा है वह वहां के आधे किलोमीटर की एरिया में यदि झुग्गी झोपड़ी, सड़क किनारे और फुटपाथ व नालों के किनारे रहने वाले गरीब लोगों को एक समय का भोजन अवश्य उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि देश इस समय संकट में है और इस संकट की मार सबसे ज्यादा इन्हीं लोगों और दिहाड़ी मजदूरों पर है। ऐसे संकट में जो साधन संपन्न लोग हैं, जिन पर ईश्वर की कृपा है और अहसहाय लोगों की मदद कर सकते हैं, ऐसे सभी बंधु गरीब तबके के लोगों की मदद के लिए आगे आए। यह सभी लोग धर्मशाला या विद्यालय में एक स्थान पर भोजन बनवाएं और उसके पैकेट बनाकर फुटपाथ, नाले किनारे और झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोगों को वितरण करें। इतना ही नहीं महापौर ने अपील की है कि इस पुनीत कार्य को करते वक्त वह स्थानीय पुलिस प्रशासन का सहयोग लें जिससे गरीब लोगों को भोजन वितरण करने के दौरान किसी तरह की कोई दिक्कत ना आए।

अंत में महापौर ने सभी शहरवासियों से अपील की है कि इस कठिनाई के दौर में अपने परिवार के अतिरिक्त कम से कम एक भूखे गरीब व्यक्ति को भोजन कराने का संकल्प लें तो मेरे शहर में कोई भी भूखा नहीं रहेगा।

About admin 3407 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।