Home आगरा आसपास भूत प्रेत का साया बताकर इलाज़ करने के बहाने तांत्रिकों पर दुष्कर्म करने का आरोप, पुलिस भी नहीं कर रही सुनवाई

भूत प्रेत का साया बताकर इलाज़ करने के बहाने तांत्रिकों पर दुष्कर्म करने का आरोप, पुलिस भी नहीं कर रही सुनवाई

by admin

एक गांव में महिला के ऊपर भूत प्रेत का साया बता कर तांत्रिक क्रिया के बहाने महिला को नशीला पदार्थ खिलाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया गया है। पीड़ित महिला दो माह से थाने के चक्कर काट रही है मगर आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हुई जिस पर कांग्रेस नेत्री के साथ पीड़िता ने तहसील मुख्यालय पहुंचकर एसडीएम को प्रार्थना पत्र दिया और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। कार्रवाई नहीं होने पर धरने की चेतावनी दी गई है।

बताते चलें कि बाह क्षेत्र के अंतर्गत एक गांव निवासी महिला की 2 माह पूर्व अचानक बेचैनी के साथ तबीयत बिगड़ गई। जिस पर महिला और उसका पति ने गांव के ही तांत्रिक के पास समस्या निदान के लिए गए। जिस पर तांत्रिक कर्म करने वाले व्यक्ति ने अशिक्षित पति पत्नी को बातों में फंसाकर कहा कि आपके परिवार पर गहरा संकट आने वाला है। जिस की तांत्रिक क्रिया पूजा पाठ कराना पड़ेगा। उसके लिए सामान मंगाया गया।

4 अक्टूबर को पीड़ित महिला के घर रात को दो तंत्रिका गए और तांत्रिक क्रिया प्रारंभ कर दी गई। तांत्रिक क्रिया में लगभग 2 घंटे का समय लगा। पूजा पूरी होने के बाद हवन सामग्री को रात के समय 12:30 बजे महिला के पति को लेकर जाने को कहा। तांत्रिकों द्वारा महिला के पति को 1 घंटे श्मशान घाट में रुकने के लिए कहा गया। सामग्री को लेकर पति एक किलोमीटर दूर गांव के श्मशान घाट चला गया।

आरोप है कि पति के जाने के बाद दोनों तांत्रिकों ने पीड़ित महिला को कुछ नशीला पदार्थ खिला दिया और शराब का सेवन करने के बाद बेहोशी की हालत में महिला के साथ दोनों लोगों ने दुष्कर्म किया। शोरगुल की आवाज सुनकर अन्य परिजन जाग गए देखा तो महिला बेहोशी की हालत में जमीन पर पड़ी हुई थी। परिजनों के एकत्रित होने पर दोनों तांत्रिक मौके से भाग गए। दूसरे दिन पीड़ित महिला पति और परिजनों के साथ बाह थाने पहुंची और पुलिस को मामले से अवगत कराया।

आरोप है कि पुलिस ने महिला का पहले इलाज कराने के लिए कहा गया। जिस पर परिजनों द्वारा महिला का इलाज कराया गया। उसके बाद पीड़ित महिला एवं परिजनों ने थाने के कई चक्कर लगाए मगर आश्वासन के बाद भी आरोपी तांत्रिकों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई। पुलिस के ढुलमुल रवैया से पीड़िता और उसका पति चक्कर काटकर थक गया।

बीते सोमवार को पीड़िता कांग्रेस नेत्री पूर्व जिलाध्यक्ष आगरा मनोज दीक्षित के साथ तहसील मुख्यालय पर पहुंची। एसडीएम बाह रतन वर्मा से मिलकर प्रार्थना पत्र देकर उन्हें मामले से अवगत कराया। आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की गई। पीड़िता ने कहा कि 20 दिसंबर तक आरोपियों पर कार्रवाई नहीं की गई तो वह कांग्रेस नेता मनोज दीक्षित के साथ तहसील मुख्यालय पर भूख हड़ताल पर बैठ जाएगी। वहीं पीड़िता द्वारा मुख्यमंत्री सहित राज्य महिला आयोग एवं पुलिस महानिदेशक, एवं पुलिस महानिरीक्षक आगरा को भी प्रार्थना पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की गई है।

मून ब्रेकिंग के व्हाट्सअप ग्रुप से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें –
https://chat.whatsapp.com/BpgZvsh7qm0LQz2pRz3FW6

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: