शातिरों को पकड़ने में असफल रही पुलिस तो ख़ुद ही निकल पड़ी 73 वर्षीय पुष्पा, ऐसे ढूंढा आरोपी को

आगरा। अपराधियों को पकड़ना वैसे तो पुलिस का काम है लेकिन कई बार ऐसी स्थिति बन जाती है कि जब पुलिस अपनी जिम्मेदारी से मुंह मोड़ ले तो आम नागरिक ही स्वयं न्याय के लिए प्रयास करना शुरू कर देता है और फिर उसके जज़्बे को देखकर पुलिस भी सोचने को मजबूर हो जाती है। आगरा में घटिया की रहने वाली 73 वर्षीय दादी का किस्सा भी कुछ ऐसा ही है। जिन्होंने उनके साथ ठगी करने वाले अपराधियों को ढूंढने के लिए खुद ही मोर्चा संभाल लिया और कोरोना काल से लगातार उन्हें ढूंढने में लगी हुई है।

दरअसल सिटी स्टेशन रोड घटिया की रहने वाली 73 वर्षीय पुष्पा देवी पत्नी महावीर प्रसाद 3 जून को सुबह बाजार से सामान लेने गई थी। उसी दौरान पास में स्थित बीपी ऑयल वाली गली में एक युवक ने उन्हें रोक लिया और उनसे फिरोजाबाद जाने का रास्ता पूछने लगा। उसी दौरान युवक का एक और साथी भी वहां पहुंच गया। दोनों ने बुजुर्ग महिला को बताया कि उनके पास लाखों रुपए रखे हुए हैं जिसके चोरी हो जाने का उन्हें डर है। यह कह कर वे दोनों महिला को अपने साथ लेकर चल दिए। महिला ने बताया उन दोनों शातिरों ने बातों में उलझा कर उनके कुंडल और टॉप्स के अलावा बैग में रखे हुए ₹8000 भी निकलवा लिए। वहीं गारंटी के तौर पर उन्हें 500 के नोट की गड्डी दिखाने लगे जिसके बाद शातिरों ने महिला के गहनों को एक रुमाल में रखकर महिला के बैग में रख दिया और महिला को वहीं छोड़कर फरार हो गए।

जब पुष्पा देवी अपने घर पहुंची तब उन्हें होश आया कि उनके साथ ठगी की गई और सभी जेवरात व कैश वे दोनों शातिर ले उड़े। जिसके बाद उन्होंने अपने पति के साथ 4 जून को थाना हरीपर्वत जाकर पुलिस को तहरीर दी।

पुष्पा देवी ने बताया कि उन शातिरों को पकड़ने में पुलिस ने कोई खास रुचि नहीं दिखाई। कई बार कहने के बावजूद जब पुलिस उन शातिरों को ढूंढने में सफल नहीं हो पाई तो वे खुद ही उन्हें तलाशने के लिए निकल पड़ीं।

कुछ दिन बाद बल्केश्वर में एक बुजुर्ग महिला के साथ हुई इसी तरह की वारदात के बारे में जब पुष्पा देवी को जानकारी मिली तो वे अपने पति के साथ थाना एत्माद्दौला पहुंच गई और पुलिस से उन शातिरों के बारे में पूछने लगी। जहां पर पुलिस ने उन्हें घटना की सीसीटीवी रिकॉर्डिंग दिखाई जिसमें पुष्पा देवी ने दोनों आरोपियों की पहचान कर पुलिस को बताया कि यह वही आरोपी है जिन्होंने उनके साथ भी घटना को अंजाम दिया था।

अब जहां एक तरफ पुलिस भले ही शातिरों को नहीं ढूंढ पाई। वहीं पुष्पा देवी ने भी अभी तक हार नहीं मानी है और वे लगातार उन आरोपियों की तलाश में लगी हुई हैं। उनके इस जज्बे को देखकर पुलिस भी उनकी जमकर तारीफ कर रही है।

About admin 5000 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।