2 महिलाओं सहित 4 बीडीसी सदस्यों के अपहरण का आरोप से मचा हड़कंप

आगरा। इन दिनों आगरा के एत्मादपुर में ब्लाक प्रमुख के चुनाव का खुमार सर चढ़कर बोल रहा है लेकिन आज एक ऐसा मामला सामने आया कि चारों ओर हड़कंप मच गया।
दरअसल आज 3 महिला और एक पुरुष तहसील एत्मादपुर पहुंचे और उप जिलाधिकारी रजनीश मिश्रा को बताया कि थाना बरहन निवासी मनीष कुलश्रेष्ठ जो कि ब्लाक प्रमुख पालिका उम्मीदवार है, ने उनके क्षेत्र पंचायत सदस्य पति और एक युवक जिसकी पत्नी व बच्चे को ब्लॉक में काम का बहाना बनाकर अपहरण कर लिया है।

एत्मादपुर ब्लाक प्रमुख के पद पर अविश्वास मत आने के बाद ब्लाक प्रमुख पद खाली हो गया था। इसका कल चुनाव होना है। बीते दिन बुधवार को चुनाव के नामांकन के लिए कल से खरीदे गए थे। कल 5 पर्चे बिके थे जिसके बाद कुल 3 उम्मीदवारों ने नामांकन किया था। आज एक उम्मीदवार ने अपना नाम वापस ले लिया फिर केवल 2 उम्मीदवार मैदान में बचे हैं जिनमें से एक क्षेत्र के कद्दावर भाजपा नेता का भाई है जबकि दूसरा बरहन का निवासी क्षेत्र पंचायत सदस्य है।

तहसील में उप जिलाधिकारी से फरियाद करने आये घड़ी महाराम निवासी रणवीर सिंह और गारापुर निवासी रामवीर सिंह का कहना था कि थाना बरहन निवासी संगीता कुलश्रेष्ठ पत्नी मनीष कुलश्रेष्ठ अपने पति के साथ तीन अज्ञात युवकों के साथ घर पर आई और कहा कि आपकी पत्नी क्षेत्र पंचायत सदस्य हैं। इस वजह से ब्लॉक में किसी कार्य की वजह से चलना है। क्योंकि संगीता का पति मनीष स्वयं क्षेत्र पंचायत सदस्य हैं इसलिए वह उनके साथ चली गई लेकिन दिनांक 3 मार्च से अब तक उनका कोई पता नहीं चल पाया।

अब पता चला है कि मनीष कुलश्रेष्ठ ब्लॉक प्रमुख का चुनाव लड़ रहे हैं। इस वजह से उन्होंने हमारी पत्नी का अपहरण कर लिया है। वहीं दूसरी ओर महिला महा सिंह निवासी रानी का कहना था कि उनके पति चारा काटने के लिए खेत पर गए थे वहीं से मनीष कुमार ने उन्हें अपने साथ ले लिया और 5 तारीख से अब तक घर नहीं लौटे हैं। उनसे कोई संपर्क भी नहीं हो पा रहा है। शैलेंद्र निवासी गढ़ी थलू का कहना था कि उनका भाई पप्पू अपने खेत में पानी लगा रहा था। 5 मार्च को उन्हें मनीष कुमार अपने साथ ले गए और अब तक घर नहीं लौटे हैं।

इतना ही नहीं बहरामपुर गांव निवासी एक युवक का कहना था कि उनकी पत्नी बीडीसी सदस्य है। वह कल अपनी पत्नियों बच्चे के साथ एत्मादपुर डॉक्टर के पास दवा लेने आ रहे थे तो रास्ते में ही समय पर उन्हें मनीष व अन्य युवकों ने रोक लिया और जबरदस्ती उनकी पत्नी और बच्चे को अपने साथ ले गए। इससे ऐसा प्रतीत होता है कि उन्होंने मेरी पत्नी का अपहरण किया है।

इन सब समस्याओं को सुनने के बाद SDM एत्मादपुर रजनीश मिश्रा ने थाना अध्यक्ष एत्मादपुर को मामले को गंभीरता से लेते हुए जल्द जांच कर उचित कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

एत्मादपुर से पवन शर्मा की रिपोर्ट

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*