संसद में हुई हिंदी परिषद् की बैठक, शहर से विजय शर्मा ने लिया भाग

सरकारी हो या फिर गैर सरकारी कार्यालय सभी में हिंदी बहस में कार्य हो और हिंदी बहस को प्राथमिकता दी जाये। इसको लेकर संसद भवन के सेंट्रल हाल मे संसदीय हिंदी परिषद् का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस एक दिवसीय कार्यक्रम का उद्घाटन केंद्रीय समाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री भारत सरकार थावर चंद गहलोत ने किया।

इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में मुरली मनोहर जोशी और पदम भूषण सम्मानित लोग मैजूद रहे। संसद भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में आगरा से सिर्फ वरिष्ठ कांग्रेसी और उत्तर प्रदेश व्यापर कमेटी के प्रदेश संयोजक विजय शर्मा मौजूद रहे। कार्यक्रम के दौरान मौजूद सभी लोगों ने हिंदी भाषा को बढ़ाने पर जोर दिया। लोगों का कहना था कि हिंदी भाषा देश के अधिकतर प्रदेश में बोली जाती है वही सरकार भी इसके चलन को बढ़ाने पर जोर दे रही है। इसलिए सरकारी हो या फिर गैर सरकारी सभी में हिंदी सप्ताह दिवस मनाया जा रहा है सरकार भले ही प्रयास कर रही हो लेकिन फिर भी इसके सार्थक नतीजे नहीं आ रहे है।

इसको लेकर शहर से प्रतिभाग करने वाले विजय शर्मा ने भी अपनी बात रखी। उनका कहना था कि अगर इंग्लिश मीडियम स्कूलो में भी हिंदी की अनिवार्यता पर जोर दिया जाए तो हिंदी को राष्ट्र भाषा बनाया जा सकता है लेकिन इस समय सभी लोग इंग्लिश के पीछे भाग रहे है जिस पर अंकुश लगाना होगा और कुछ ऐसे कदम उठाने होंगे जिससे स्कूल वाले भी हिंदी भाषा को प्राथमिकता दे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*