विकास कार्यों में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें-प्रमुख सचिव शिक्षा

मथुरा। प्रमुख सचिव कृषि उ0प्र0 शासन/जनपद के नोडल अधिकारी अमित मोहन प्रसाद ने कलेक्ट्रेट सभागार में शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि संचालित विकास कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप कार्यों को समयान्तर्गत तथा गुणवत्ता परक पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने अवैध कब्जा धारकों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही के निर्देश देते हुए कहा कि कब्जा मुक्त जमीन का उपयोग सरकारी कार्यों के लिए करायें जिससे खाली जमीन पर कब्जा दोबारा न हो। उन्होंने खाली करायी जमीन पर चारा बीज उत्पादन जैसे कायों में उपयोग का सुझाव दिया। ऑनलाइन शिकायतों के निस्तारण में प्रगति लाने के निर्देश दिये। मुकद्दमों के निस्तारण के अन्तर्गत 05 वर्ष से अधिक पुराने वादों का निस्तारण भी प्राथमिकता पर कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि वादों का निस्तारण दायरे से अधिक होना चाहिए। आईजीआरएस पोर्टल पर शिकायतों के निस्तारण पर सराहना की। दैवीय आपदा, सम्पूर्ण समाधान दिवस के आवेदनों को प्राथमिकता पर निस्तारण करायें।

प्रमुख सचिव ने स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा करते हुए दवाओं की उपलब्धता, मरीजों को बेहतर इलाज के साथ ही अस्पताल में उपलब्ध दवायें दी जायें, बाहर से दवायें न मंगाई जायें। संस्थागत प्रसवों की विस्तृत जानकारी आशा/आंगनबाड़ी कार्यकत्री के माध्यम से भी करायें जिससे कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन ठीक से हो सके। एम्बुलेंस की उपलब्धता तथा टीकाकरण की समीक्षा की मनरेगा के अन्तर्गत प्रति परिवार रोजगार दिवसों की संख्या बढाने तथा भुगतान समयान्तर्गत कराने के निर्देा दिये। राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल के तहत पेयजल परियोजनाओं को संचालन तथा खराब टीटीएसपी को ठीक कराने के निर्देश दिये। राशन वितरण की समीक्षा में पात्रों को अवश्य लाभ तथा पात्रों की सूची वितरण केन्द्रों पर चस्पा कराने कराने के निर्देश दिये। खाद बीज की उपलब्धता में कमी नहीं होनी चाहिए। निर्माणाधीन सड़कों के शेष कार्यों को पूर्ण कराने के निर्देश दिये। ओडीएफ कार्य में और अधिक तेजी से कार्य करने के निर्देश दिये।

श्री प्रसाद ने शिक्षा व स्वास्थ्य पर कहा कि बेहतर प्रयास करें। उन्होंने कहा कि शिक्षा व स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। कुपोषित, अतिकुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य के लिए ठोस रणनीति बनायी जाय। सभी अधिकारी लक्ष्य से अधिक करने का प्रयास करें। प्रमुख सचिव ने स्टाम्फ रजिस्टेªशन, आबकारी, परिवहन, मनोरंजनकर, विद्युत देय, विविध देय, जीएसटी, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, अमृत योजना, ट्रान्सफारमर स्थापना, कृषक पंजीकरण, मृदा परीक्षण, फसली ऋण मोचन पर विस्तृत समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। प्रमुख सचिव ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए छोटी-छोटी घटनाओं पर भी विशेष ध्यान देने तथा भूमाफियों पर कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिये।

बैठक में जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी, एसएसपी स्वप्निल ममगाई, सीडीओ पवन कुमार गंगवार, एडीएम फाइनेंस रवीन्द्र कुमार, एडीएम प्रशासन आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव, पीडी रविशंकर त्रिवेदी, डीडीओ प्रदीप कुमार यादव, अर्थ एवं संख्याधिकारी शीष कुमार, सीएमओ, अपर नगर आयुक्त, सभी एसडीएम सहित विभिन्न विभागों के प्रमुख अधिकारीगण उपस्थित थे।

About admin 4680 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*